सब्सिडी / मक्का बाेने के लिए कृषि विभाग सब्सिडी पर देगा रेजड बेड प्लांटर

X

  • आवेदन करने के लिए दो दिन और बाकी

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

कुरुक्षेत्र. उपनिदेशक कृषि प्रदीप मिल ने कहा कि पिपली, शाहाबाद, बाबैन, इस्माइलाबाद खंडों में भूमिगत जल का स्तर 40 मीटर से नीचे चला गया है। इन खंडों में जितने क्षेत्र में धान की खेती होती थी। वहां पर हरियाणा सरकार की मेरा पानी-मेरी विरासत स्कीम के तहत 50 प्रतिशत क्षेत्र में मक्की, दलहन की बिजाई कराई जाएगी। ऐसे में कृषि विभाग द्वारा हरियाणा में क्रॉप डाईवर्सिफिकेशन स्कीम वर्ष 2020-21 के अंतर्गत किसानों को 100 मेज प्लांटर, रेजड बेड प्लांटर (मक्की) मशीन लक्की ड्रा द्वारा अनुदान पर उपलब्ध कराई जाएंगी। उन्होंने कहा कि इसके लिए लघु, सीमांत, महिला, अनुसूचित जाति, जनजाति किसानों को मेज प्लांटर पर 50 प्रतिशत या 30 हजार रुपए जो भी कम हो तथा रेजड बेड प्लांटर (मक्की) पर 50 प्रतिशत या 40 हजार रुपए जो भी कम हो अनुदान दिया जाएगा। इसी प्रकार अन्य आवेदक किसानों को मेज प्लांटर पर 40 प्रतिशत या 24 हजार रुपए जो भी कम हो तथा रेजड बेड प्लांटर (मक्की) पर 40 प्रतिशत या 32 हजार रुपए जो भी कम हो अनुदान मिलेगा। किसान कृषि विभाग द्वारा मान्यता प्राप्त किसी भी निर्माता से यह मशीन खरीद सकते हैं। पिपली, शाहाबाद, बाबैन, इस्माइलाबाद खंडों के किसानों को ये मशीनें मिलेंगी। इच्छुक किसान विभाग के पोर्टल पर 26 मई तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

स्मैम स्कीम में भी मांगे आवेदन :

प्रदीप मिल ने बताया कि कृषि विभाग द्वारा स्मैम स्कीम में सीधी बिजाई की एक हजार मशीन, 50 न्यूमैटिक प्लांटर (ट्रैक्टर चालित), 500 मल्टी क्रॉप प्लांटर (मेज) तथा 100 पैडी ट्रांसप्लांटर (4 से 8 पंक्ति) कृषि यंत्र 40 प्रतिशत से 50 प्रतिशत अनुदान दिए जाएंगे। यह अनुदान पहले आओ-पहले पाओ के आधार मिलेगा। इच्छुक किसान विभाग के पोर्टल पर 30 जून तक मशीन खरीद बिल व ई-वे बिल अपलोड करेंगे। मशीन उन्हीं निर्माताओं से खरीदी जा सकती है, जिनकी मशीन सरकार द्वारा किसी संस्थान से सत्यापित हो।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना