पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

राजनीति गरमाई:भाकियू प्रवक्ता और कृष्ण बेदी के समर्थक आमने-सामने, वाल्मीकि समाज गुलियानी के पक्ष में उतरा

शाहाबाद7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शाहाबाद | रोष जताते वाल्मीकि समाज के लोग।
  • वाल्मीकि समाज की हुई मीटिंग, बोले-गुलियानी पर बैंस लगा रहे गलत आरोप

पूर्व राज्यमंत्री कृष्ण बेदी पर भाकियू के प्रैस प्रवक्ता राकेश बैंस द्वारा लगाए गए आरोपों को लेकर राजनीति गर्म हो गई है। एक तरफ जहां बेदी के समर्थक बैंस पर निशाना साध रहे हैं। वहीं साहिल गुलियानी के हक में वाल्मीकि समाज उतर आया। आरोपों को लेकर वाल्मीकि समाज में रोष है। इसी मुद्दे को लेकर वाल्मीकि नगर में एक बैठक हुई। इसमें समुदाय के लोगों ने भाग लिया।

जोगिंद्र रत्ता ने कहा कि भाजपा के एक कार्यकर्ता साहिल गुलियानी ने गुरनाम सिंह चढूनी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। इसमें चढूनी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रावण की संज्ञा देने पर रोष जताया था। इसे लेकर भाकियू के प्रवक्ता बैंस ने राज्यमंत्री कृष्ण बेदी पर झूठे आरोप लगाए और साहिल गुलियानी को राज्यमंत्री का पीए बताया। जबकि यह गलत है। साहिल भाजपा कार्यकर्ता है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का फैन है।

बेदी दे रहे जातीय रंग

जब इस बारे में राकेश बैंस ने कहा कि पूर्व मंत्री कृष्ण बेदी किसान आंदोलन को खत्म करवाने के लिए इसे जातिगत रंग देना चाहते हैं। राकेश ने कहा कि पूर्व मंत्री का किसान विरोधी चेहरा सबके सामने आ चुका है। भाजपा किसान आंदोलन को समाप्त करने के लिए हर प्रकार की साजिश रच रही है। पूर्व मंत्री कृष्ण बेदी पर उन्होंने राजनीतिक टिप्पणी की क्योंकि पूर्व मंत्री सरकार में एक संवैधानिक पद पर रह चुके हैं। उन्होंने कहा कि जोगिंद्र रत्ता व एक अन्य व्यक्ति द्वारा एक सोशल मीडिया पर जारी की गई टिप्पणी में उन्हें धमकी दी गई व जातिगत द्वेष फैलाने की नियत से यह कार्य किया गया। जिसकी शिकायत उन्होंने पुलिस के उच्चाधिकारियों को भेज दी है।

भाकियू के आरोप गलत : बेदी

पूर्व मंत्री कृष्ण बेदी ने कहा कि वह 3 अध्यादेश पारित करने वाली कमेटी के सदस्य नहीं है। इसीलिए भाकियू द्वारा उनपर जो आरोप लगाए जा रहे हैं वह निराधार है। उन्होंने कहा कि जिस व्यक्ति द्वारा भाकियू प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया है वह भाजपा का कार्यकर्ता है और किसी भी कार्यकर्ता को कोई भी कार्य करने का अधिकार है। बेदी ने कहा कि भाकियू प्रैस प्रवक्ता राकेश बैंस व्यक्तिगत नापसंदगी के चलते उन पर आरोप लगा रहे हैं। दलित समाज से संबंध होने के कारण दबाया जा रहा है।

अपने कार्यकर्ता की मौत पर भी राजनीति कर रही भाजपा : चढूनी

अम्बाला में ट्रैक्टर रैली में भाजपा कार्यकर्ता की मौत मामले में भाजपा ने भाकियू प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी व साथियों के विरुद्ध केस दर्ज कराया है। इसे लेकर राजनीति गर्माने लगी है। भाकियू के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने आरोप लगाया है कि भाजपा अपने ही कार्यकर्ता की मौत पर राजनीति कर रही है। किसानों के खिलाफ धारा 302 के अंतर्गत कत्ल का मुकदमा दर्ज कर रही है। गुरुवार को चढूनी व साथियों ने वीडियो संदेश भी जारी किया । उन्होंने कहा कि सरकार और भाजपा का यह कदम निंदनीय है। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन को दबाने के लिए सरकार और भाजपा ओछे हथकंडे अपनाने पर उतारू है।

एक कार्यकर्ता की मौत का राजनीतिक प्रयोग करने में भी पीछे नहीं हट रही। वायरल वीडियो में स्पष्ट दिखाई दे रहा है कि किसी भी कार्यकर्ता ने उसे हाथ तक नहीं लगाया। ऐसे में किसानों के प्रति मुकदमा दर्ज करने का कोई भी आधार नहीं बनता। उन्होंने बताया कि 75 वर्ष के ऐसे बुजुर्ग को जिसको पहले भी तीन बार हर्ट अटैक हो चुका है, लाने वाले लोग ही दोषी हैं। इसलिए रैली के आयोजक नायब सैनी और उनके साथियों के खिलाफ कत्ल का मुकदमा दर्ज होना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा अपने मरे हुए कार्यकर्ता को भी बेच रही है। उस पर तरस खाना और उसकी मदद करना तो दूर रहा, राजनीतिक फायदे के लिए उसकी मौत का इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि किसानों के आंदोलन को दबाने के लिए सरकार चाहे जितने मर्जी हथकंडे अपना ले वह किसी भी संघर्ष से पीछे नहीं हटेंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें