लोग परेशान:विवाद में उलझी शहर की लाइफलाइन, पिपली से थर्ड गेट सिक्स लेन सड़क

कुरुक्षेत्र7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पिपली-थर्ड गेट सिक्स लेन प्रोजेक्ट निर्माण अधर में पड़ा। - Dainik Bhaskar
पिपली-थर्ड गेट सिक्स लेन प्रोजेक्ट निर्माण अधर में पड़ा।
  • पत्थर व मिट्टी डालने से आगे नहीं बढ़ पा रहा निर्माण कार्य

पिछले सवा तीन साल से टुकड़ों में बन रही शहर की लाइफलाइन कही जाने वाली थर्ड गेट-पिपली सिक्स लेन सड़क विवाद में उलझकर रह गई है। पहले भी दो ठेकेदार सड़क निर्माण का काम बीच में छोड़कर जा चुके हैं। वहीं अब तीसरे ठेकेदार पर भी सड़क बनाने में नियमों की अनदेखी के आरोप लगा पीडब्ल्यूडी विभाग की ओर से साढ़े चार करोड़ रुपए का जुर्माना लगा दिया गया। वहीं टेंडर रद्द करने तक के आदेश जारी कर दिए गए।

जिसके बाद से एक ओर की सड़क आधी अधूरी बनने के बाद दूसरी तरफ की सड़क पर पत्थर और मिट्टी पड़े हैं। जिसके कारण पूरा दिन शहरवासियों को जाम और परेशानी से जूझना पड़ रहा है। टेंडर रद्द करने और जुर्माना लगाने पर हाईकोर्ट में गए ठेकेदार शशांक गर्ग ने कहा कि हाईकोर्ट की ओर से टेंडर रद्द करने के आदेशों को खारिज कर दिया है। इसकी कॉपी पीडब्ल्यूडी अधिकारियों को सौंप दी है। वहीं जुर्माना लगाने के मामले में आर्बिटेशन में चीफ इंजीनियर के पास चंडीगढ़ में सुनवाई होनी है।

पीडब्ल्यूडी से मांगी काम शुरू करने की अनुमति
शशांक ने बताया कि शुक्रवार को उन्होंने पीडब्ल्यूडी अधिकारियों को हाईकोर्ट के फैसले की काॅपी देकर निर्माण कार्य शुरू करने की मांग की है। उन्हें जैसे ही अधिकारी सड़क निर्माण शुरू करने की अनुमति देंगे तो वे काम शुरू कर देंगे। उन्होंने कहा कि शुक्रवार को ही चंडीगढ़ में आर्बिटेशन में चीफ इंजीनियर के सामने मामले की सुनवाई होनी थी, लेकिन उन्हें कोरोना संक्रमण के लक्षण हैं, जिसके चलते उन्होंने अपना कोविड टेस्ट करवाया है। रिपोर्ट आने के बाद ही वे सुनवाई के लिए जाएंगे।

अब चीफ इंजीनियर को लेना है फैसला : भाटिया
पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन अरुण भाटिया ने कहा कि हाईकोर्ट की ओर से चीफ इंजीनियर को इन मामलों में फैसला लेने का अधिकार दिया है। शुक्रवार को सुनवाई थी, लेकिन ठेकेदार नहीं पहुंचा। अब सोमवार को मामले की सुनवाई होनी है। उन्होंने कहा कि इस मामले में चीफ इंजीनियर की ओर से ही फैसला लिया जाना है। इसके बाद विभाग की ओर से नया टेंडर जारी करने या अन्य जो भी कार्रवाई होगी वह अमल में लाई जाएगी।

खबरें और भी हैं...