दीपोत्सव:पहली बार दीपदान करने नहीं पहुंचेंगे सीएम, दीपाेत्सव का लाइव प्रसारण

कुरुक्षेत्रएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मार्गशीर्ष माह की एकादशी पर मंगलवार को गीता जयंती मनाई जाएगी। इस बार दीपोत्सव मुख्य आकर्षण रहेगा। पहली बार 48 कोस के 75 तीर्थ राेशन हाेंगे। प्रशासन ने घरों में भी दीपक जलाने की अपील की है। ब्रह्मसरोवर पर दीपदान की परंपरा भी साथ निभेगी लेकिन इस बार सीएम दीपदान नहीं करेंगे, राज्यपाल परंपरा निभाएंगे। पहली बार केंद्रीय पर्यटन मंत्री समारोह का हिस्सा बनेंगे। दीपोत्सव का लाइव प्रसारण सोशल मीडिया पर किया जाएगा।

केडीबी सीईओ अनुभव मेहता के मुताबिक केडीबी व प्रशासन 5 लाख दीपक जलाने का लक्ष्य लेकर चल रहा है। ब्रह्मसरोवर व सन्निहित सरोवर पर दीपोत्सव के लिए अयोध्या से एक विशेष टीम को बुलाया गया है। इस टीम ने ब्रह्मसरोवर, ज्योतिसर, सन्निहित सरोवर सहित 75 तीर्थों पर लाखों दीप जलाने की रुपरेखा भी तैयार की है। दीपोत्सव में संस्थाओं के साथ समन्वय बनवाने की जिम्मेदारी एसडीएम पिहोवा सोनू राम की लगाई है। इन संस्थाओं पर जिम्मा|

भारत विकास परिषद, विश्व हिन्दू परिषद, वातस्लय वाटिका, जिओ गीता, सनातन धर्म गाेशाला, सैनी समाज सभा, मानवतावादी संस्थान, राई धर्मशाला, श्री स्थाणु सेवा मंडल, श्री थानेश्वर मंदिर, वेद पाठशाला, बैरागी धर्मशाला, गुरु रविदास सभा, धानक समाज, कश्यप धर्मशाला, प्रजापति धर्मशाला, पूर्वांचल महासभा, वैश्य धर्म महासभा, अग्रवाल महासभा, जयराम विद्यापीठ, गायत्री परिवार, डोनर्स फांउडेशन, सर्वे भवंतु, पांचाल धर्मशाला, चेतन्य परिवार, गुर्जर धर्मशाला, राधा-कृष्ण सेवा परिवार, लायंस क्लब, रोटरी क्लब, ब्राह्मण धर्मशाला, प्रेरणा संस्था, मुल्तान सभा, इस्कॉन, ब्रह्मपुरी आश्रम, अग्रवाल वैश्य, पाल गडरिया समाज, वेद पाठशाला सहित अन्य संस्थाएं स्वेच्छा से दीपोत्सव में प्रशासन का सहयोग करेगी।

खबरें और भी हैं...