पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अनलॉक-2:अनलॉक-2 में डिमांड पूरी, अब सुबह 9 से रात आठ बजे तक खुलेंगे बाजार

कुरुक्षेेत्रएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना अलर्ट - कंटेनमेंट जोन में 31 जुलाई तक रहेगा लॉकडाउन, मंदिरों में अभी जारी रहेंगी पाबंदियां
  • रेस्टोरेंट व होटल में सिटिंग कैपेसिटी 50% रखनी होगी, रात 10 से सुबह 9 बजे तक कर्फ्यू
Advertisement
Advertisement

जिले में पिछले कई दिनों से व्यापारी व शहरवासी बाजारों की टाइमिंग बढ़ाने की डिमांड कर रहे थे। अब अनलॉक टू शुरू होने के साथ ही यह मांग भी पूरी होने जा रही है। अब कुरुक्षेत्र में बाजारों का समय एक घंटा और बढ़ाया है। सुबह 9 से रात आठ बजे तक बाजार खुले रहेंगे। वहीं होटल व रेस्टोरेंट भी रात आठ बजे तक खोलने की मंजूरी प्रशासन ने जारी की है। 

अनलॉक टूः रात आठ बजे तक मोहलत : डीसी धीरेन्द्र खड़गटा ने कहा कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से लॉकडाउन 6.0 में अनलॉक-2 प्रक्रिया शुरू की है। इसके तहत तहत दुकानदारों, रेस्टोरेंट, होटल, शॉपिंग मॉल व धार्मिक स्थल खोलने के लिए नई स्टेंडर्ड आप्रेटिंग प्रोसिजर (एसओपी) जारी की है। इसके तहत दुकानों, होटल, रेस्टोरेंट, धार्मिक स्थल और मॉल के लिए नियम निर्धारित किए हैं। कंटेनमेंट जोन में शॉपिंग मॉल बंद रहेंगे। कुरुक्षेत्र में कंटेनमेंट जोन के बाहर कुछ शर्तों के साथ शापिंग मॉल को खोलने की अनुमति दी है। शॉपिंग मॉल और दुकानें सुबह 9 से रात आठ बजे तक खुल सकेंगी।  

मंदिरों में रहेगी एडवाजरी लागू :  रेस्टोरेंट, मॉल, मंदिर, चर्च, गुरुद्वारा, मस्जिद  अनलॉक वन में खुल चुके हैं, लेकिन अनलॉक-2 में भी इन सभी स्थलों को एडवाईजरी की पालना करनी होगी। दुकानदारों को भी एडवाईजरी का पालन करना होगा। दो गज की दूरी रखेंगे। शापिंग मॉल में बच्चों के खेल और शापिंग माल के अंदर सिनेमा हाल बंद रहेंगे। समय समय पर मॉल आदि सेनिटाइज करेंगे। 65 वर्ष से उपर आयुवर्ग के लोगों, गर्भवती महिलाओं और 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को घर पर ही रहने की सलाह दी है। सभी के लिए मंह को ढकना या फेस मास्क लगाना जरूरी होगा।  

जुकाम या छींके आने पर किसी के नजदीक न जाएंगे

उन्होंने कहा कि लोग अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखेंगे। बीमार होने पर हेल्पलाइन पर संपर्क कर कोरोना जांच करवाएंगे। जुकाम या छींके आने की स्थिति में किसी के नजदीक नहीं जाएंगे। किसी भी जगह पर नहीं थूकेंगे। मास्क या टिश्यू पेपर डस्टबिन में ही डालेंगे। सभी दुकानदार स्वयं और उपभोक्ताओं को आरोग्य सेतु एप को डाउनलोड करने की सलाह भी देंगे। दुकानों में टेबल आदि भी समय समय पर सेनिटाइज करनी होंगी। यह आदेश 31 जुलाई तक जारी रहेंगे। अवहेलना पर आईपीसी की धारा 188 तथा आपदा प्रबंधन एक्ट 2005 की धारा 51 से 60 तक के तहत कार्रवाई होगी।  मंदिर में घंटी बजाने व प्रसाद बांटने पर रहेगी पाबंदी 

धार्मिक स्थलों में प्रसाद बांटने और घंटी बजाने पर पाबंदी रहेगी। मंदिर में प्रवेश से पहले साबुन से हाथ-पैर धोने होंगे। बिना फेस मास्क के प्रवेश नहीं मिलेगा। जूते-चप्पल अपने व्हीकल में ही उतारने या फिर जूता घर में स्वयं रखने होंगे। पूजा के दौरान घंटी बजाने, भजन मंडलियों द्वारा कीर्तन करने पर भी रोक रहेगी।  सिर्फ रिकार्डिंग भजन ही बजाए जा सकेंगे।  

31 तक बंद रहेंगे शैक्षणिक संस्थान

डीसी धीरेंद्र के मुताबिक राज्य सरकार के आदेशानुसार 31 जुलाई तक लॉकडाउन किया है। इस लॉकडाउन  में स्कूल, कालेज, कोचिंग संस्थान 31 जुलाई तक बंद रहेंगे। ऑनलाइन प्रणाली से शिक्षण करा सकेंगे। लॉकडाउन के नए आदेशों के अनुसार इंटर स्टेट मूवमेंट के लिए कोई प्रतिबंध नहीं होगा।  रात्रि 10 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू रहेगा। इस समयावधि के दौरान 65 वर्ष से उपर आयुवर्ग, क्रोनिक डिसिज, गर्भवती और 10 वर्ष से कम आयुवर्ग के बच्चों को बाहर जाने की इजाजत नहीं होगी।  किसी भी स्थान पर 5 या 5 से ज्यादा लोगों पर जमा होने पर पाबंदी रहेगी।   रात 8 बजे तक खोल सकेंगे होटल 

होटल रेस्टोरेंट सुबह 9 से रात आठ बजे तक खुल सकेंगे, लेकिन सिटिंग कैपेसिटी के 50 प्रतिशत ही रहेगी। बफेट सर्विस की अनुमति नहीं होगी। रेस्टोरेंट में बार नहीं खुलेंगे। डीसी ने कहा कि कुरुक्षेत्र जिले में भी होटल को खोलने और बंद करने के समय उक्त परिवर्तन किया है। 2 हजार स्क्वेयर फीट व उससे उपर  के बैंक्वट हॉल में एक समय में अधिकतम 50 गेस्ट ही रहेंगे। इन्हें भी दो गज की दूरी के नियमों की पालना करनी होगी। खाना बनाने और सर्व करने वाली एजेंसियों को स्वास्थ्य विभाग की एडवाइजरी की पालना करनी होगी। 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement