पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मंडियों में नहीं हुई गेहूं की सफाई व भराई:डिपो होल्डर्स को मार्केट कमेटी में दी गेहूं खरीद की ट्रेनिंग

कुरुक्षेत्र9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • थानेसर मंडी में सुबह खरीद करने पहुंची एजेंसी, आढ़तियों ने झरने किए बंद

गेहूं सीजन धीरे-धीरे पीक पर पहुंचने लगा है। मंडियों में गेहूं आवक तेजी पकड़ रही है। लेकिन आढ़तियों की हड़ताल पर जाने से मंडियों में गेहूं खरीद सुचारू करना प्रशासन के सामने चुनौती बना है। तय योजना के तहत गुरुवार को आढ़तियों ने मंडियों में सुबह उतरवाई व सफाई का काम शुरू किया, लेकिन जैसे ही एजेंसी अधिकारी गेहूं की ढेरियों को लिखने लगे, तो दोपहर आढ़तियों ने पूरी मंडी का दौरा कर सफाई मशीनें बंद करवा दी।

इसके बाद आढ़तियों ने केवल ट्राॅली से उतरवाई व सुखाई का काम लेबर से करवाया। मंडियों में तुलाई व भराई नहीं की गई। इधर आढ़तियों की हड़ताल के चलते प्रशासन ने भी अपने स्तर पर व्यवस्था बनाने के प्रयास शुरू कर दिए हैं।

मार्केट कमेटी थानेसर में सुबह डिपो होल्डर्स को बुलाकर बाकायदा गेहूं खरीद की एक घंटे तक ट्रेनिंग दी गई। इतना ही नहीं 9 डिपो होल्डर्स को टेंपरेरी लाइसेंस भी मार्केट कमेटी थानेसर की ओर से जारी किए गए हैं। लेकिन गुरुवार को डिपो होल्डर्स से किसी तरह काम नहीं लिया गया। आढ़तियों की हड़ताल के कारण जिलेभर की मंडियों में गेहूं भराई व तुलाई ठप रही। हालांकि अधिकारी खरीद सुचारू करने का दावा करते रहे।

मंडी में घूम बंद करवाए झरने, लेबर भी आढ़तियों के साथ : कुरुक्षेत्र अनाज मंडी में सुबह आढ़तियों ने किसान की ट्राॅली से गेहूं उतराई व सफाई के लिए झरने चलाए रखे। इस दौरान आढ़तियों ने मंडी में घूम किसी तरह भी भराई न करने बारे कहा। साथ ही भराई कर रहे मजदूर काे रोका।

हालांकि सुखाई के काम में मजदूर लगे रहे। आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान कृष्ण कुमार, सुशील सिंगला, अंग्रेज सिंह, महासचिव राजबीर सिंह समेत अन्य पदाधिकारियों का कहना है कि मंडियों में आढ़तियों का विरोध जारी रहेगा। सलपानी कलां गांव से आए किसान गुरचरण सिंह ने बताया कि 5 एकड़ की गेहूं दो दिन से मंडी में लेकर बैठा है। ढेरी पर कोई खरीद एजेंसी नहीं आई।

यही कहा जा रहा है आढ़तियों की हड़ताल है। वहीं सिरसला गांव से आए किसान गुरदयाल सिंह ने बताया 3 एकड़ की फसल लेकर गुरुवार सुबह मंडी में आया था, लेकिन खरीद नहीं हुई न ही सफाई के लिए आढ़तियों ने झरना चलाया। दोनों किसानों ने कहा सरकार किसानों के खाते में सीधा भुगतान करें या आढ़ती के उन्हें इससे कोई फर्क नहीं, लेकिन मंडियों में इस तरह हड़ताल कर किसान की खून पसीने की कमाई का अपमान न किया जाए। इधर, खाद्य आपूर्ति विभाग की ओर से जारी किए गए आंकड़ों में गुरुवार को जिलेभर की मंडियों में कुल 2985 एमटी गेहूं खरीद का दावा किया गया। वहीं आढ़ती एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष अशोक गुप्ता का कहना है, खरीद एजेंसियों ने अपने स्तर पर माल को लिखा होगा। लेकिन कहीं भी आढ़तियों ने माल भराई व तुलाई नहीं की।

टेंपरेरी लाइसेंस प्रक्रिया शुरू की

थानेसर मार्केट कमेटी में गुरुवार सुबह 8 बजे ही 28 से 30 सरकारी राशन वितरण करने वाले डिपो होल्डर्स को प्रशासन ने बुलाया। उनके दस्तावेज लेकर गेहूं खरीद के लिए टेंपरेरी लाइसेंस की प्रक्रिया शुरू की गई। बाकायदा नौ डिपो होल्डर्स के टेंपरेरी लाइसेंस भी मार्केट कमेटी की ओर से बनाए जा चुके हैं। डिपो होल्डर्स को मार्केट कमेटी में गेहूं खरीद को ट्रेनिंग भी दी गई। हालांकि गुरुवार को डिपो होल्डर्स से काम प्रशासन ने नहीं लिया। उन्हें तैयार रहने को कहा गया है।

सरकार से कोई बातचीत नहीं, विरोध जारी रहेगा: अशोक

हरियाणा स्टेट आढ़ती एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष अशोक गुप्ता ने कहा कि प्रदेशभर की मंडियों में गुरुवार को कहीं भी आढ़तियों ने भराई व तुलाई का काम नहीं किया। सरकार की ओर से कोई बातचीत का प्रस्ताव नहीं आया, लिहाजा विरोध जारी रहेगा। किसी भी मंडी में आढ़ती गेहूं की भराई व तुलाई में सहयोग नहीं किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें