पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नियम:एक अक्टूबर से मिठाई की ट्रे पर लिखनी थी एक्सपायरी डेट, खाद्य सुरक्षा विभाग गंभीर नहीं

कुरुक्षेत्र6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • खराब मिठाई मिले तो dokkr1@gmail.com पर कर सकते हैं शिकायत

सरकार ने एक अक्टूबर से मिष्ठान भंडार संचालकों को मिठाई की ट्रे पर एक्सपायरी डेट लिखने का नोटीफिकेशन तो जारी कर दिए, लेकिन धरातल पर 18 दिन बाद भी अमल नहीं हो पाया है। इसे लेकर जिले का स्वास्थ्य विभाग भी गंभीर नहीं दिख रहा। इसके चलते अब तक सभी मिष्ठान भंडार संचालकों की इसे लेकर बैठक तक नहीं ली गई।

इतना ही नहीं दुकानदारों को नए नियम के संबंध में कोई नोटीफिकेशन भी जारी नहीं किया। विभाग की लापरवाही के चलते मिठाई विक्रेता अभी भी बिना एक्सपायरी डेट लिखी मिठाई बेच रहे हैं। नियम के अनुसार मिठाइयों की ट्रे पर दुकानदार को खुद हाथ से मिठाई की एक्सपायरी डेट लिखकर लगानी होगी, लेकिन अब तक किसी भी दुकानदार ने यह सिस्टम शुरू नहीं किया है।

नहीं कोई नोटीफिकेशन कैसे लगाएं एक्सपायरी डेट

दुकानदारों का कहना है कि वे विभाग की तरफ से उन्हें कोई नोटीफिकेशन जारी नहीं हुआ। किस मिठाई की सरकार ने कितने दिन की एक्सपायरी फिक्स कर रखी है, इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है। समाचार पत्र के माध्यम से मिली जानकारी के आधार पर ही कुछ दुकानदारों ने मिठाइयों पर एक्सपायरी डेट लिखनी शुरू कर दी है। दुकानदारों ने कहा कि उन्हें परेशान करने के लिए ऐसा नियम बनाया गया है। दुकानदारों ने कहा कि बहुत सी मिठाई ऐसी हैं जो दिन में दो से तीन बार बनती हैं।

मिष्ठान भंडार संचालकों ने किया विरोध

नए नियम को लेकर व्यापारियों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया। हलवाई एसोसिएशन के प्रधान रामकरण सैनी ने कहा कि इस तरह के नियम बड़े ब्रांडों के लिए भी होने चाहिएं। बड़ी कंपनियों के वही उत्पाद छह माह तक मान्य होते हैं, जबकि स्थानीय मिठाई बनाने वालों पर कई तरह की बंदिशें लगाई हैं। केवल त्योहारों के समय ही इस तरह के नियमों और आदेश जारी होने से व्यापारियों का उत्पीड़न होगा और इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्हें समाचार पत्रों के माध्यम से नियम का पता लगा है जिसके बाद उन्होंने मिठाइयों पर एक्सपायरी डेट लिखनी शुरू कर दी है। वहीं अभी तक प्रशासन की तरफ से दुकानदारों को कोई नोटीफिकेशन जारी नहीं हुआ।

नियम संबंधी गाइडलाइन की जानकारी नहीं

बीकानेर मिष्ठान भंडार संचालक मोहन ने कहा कि एफएसएसएआई के नए नियम की जानकारी तो लग गई थी, लेकिन किस मिठाई पर कितने दिन की एक्सपायरी डेट लिखनी है। इस गाइडलाइन बारे उन्हें कोई जानकारी नहीं है। खाद्य सुरक्षा विभाग के किसी अधिकारी व कर्मचारी ने भी उन्हें इस बारे कोई जानकारी नहीं दी। ऐसे में अभी तक इस नियम की पालना शुरू नहीं की गई है। जानकारी मिलने पर वे इस नियम की पालना करने को तैयार हैं।

सैंपलिंग में पिछड़ रहा विभाग

जिले में खाद्य पदार्थों की सैंपलिंग भी नाम मात्र हो रही है। विभाग की टीम को हर माह 30 सैंपल लेने अनिवार्य हैं। अक्टूबर 2019 से अक्टूबर 2020 तक विभाग ने 140 सैंपल लिए। विभाग को 360 सैंपल लेने थे। ऐसा भी नहीं है कि विभाग में कर्मचारियों की कमी है। बता दें कि विभाग में पांच स्वीकृत पद हैं और पांचों पर कर्मचारी तैनात हैं। यहां करे शिकायत : अगर अपकों किसी भी मिठाई की दुकान पर दूषित मिठाई मिलती है तो इसकी सूचना आप जिला अस्पताल में आकर फूड इंस्पेक्टर को दे सकते हैं। वहीं ईमेल आईडी dokkr1@gmail.com पर भी कर सकते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें