पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

परेशानी:एलएनजेपी में स्वास्थ्य सुविधाएं रही ठप, दवाई के लिए भटके मरीज

कुरुक्षेत्र3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आउटसोर्सिंग कर्मी बोले-जब तक वेतन नहीं मिलता तब तक काम नहीं करेंगे

जिला अस्पताल प्रशासन की लापरवाही दो दिन से मरीजों के लिए परेशानी बनी है। अस्पताल प्रशासन के रवैया से दुखी 136 आउटसोर्सिंग कर्मचारी दूसरे दिन भी हड़ताल पर रहे। कर्मचारियों को पांच माह से वेतन नहीं मिला। कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से करीब ढाई हजार लोगों को परेशानी झेलनी पड़ी। अस्पताल में दूसरे दिन भी स्वास्थ्य सुविधाएं ठप रही। वहीं सफाई व्यवस्था भी चरमरा गई। अस्पताल में जगह-जगह गंदगी के ढेर लग गए।

वार्डों में दो दिन से सफाई नहीं हो पाई। ऐसे में वार्डों में दाखिल मरीज ठीक होने की बजाए और बीमार हो रहे हैं। शनिवार को जिला अस्पताल में एक भी मरीज की पर्ची नहीं बनी। वहीं मरीजों के ऑपरेशन भी नहीं हुए। कर्मचारियों के अभाव में चिकित्सकों को दूसरे दिन भी ऑपरेशन थिएटर बंद रखना पड़ा। जिस कारण मरीजों के ऑपरेशन भी नहीं हो पाए। अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधाओं के चरमराने के बाद चिकित्सा अधीक्षक डॉ. लज्जा राम व आरएमओ डॉ. एसएस अरोड़ा आउटसोर्सिंग कर्मचारियों को समझाने पहुंचे।

अधिकारियों ने कर्मचारियों से कहा की जल्द ही उनकी सेलरी आ जाएगी आम काम पर आ जाओ। कर्मचारियों ने कहा कि जब तक उनके अकाउंट में सेलरी नहीं आ जाती तब तक वह ड्यूटी नहीं करेंगे। अधिकारियों ने कर्मचारियों को करीब 1 घंटे तक समझाया, लेकिन कर्मचारियों ने अधिकारियों की एक न मानी।

दो दिन से काट रहे दवा के लिए चक्कर : हथीरा निवासी विद्यासागर ने कहा कि उनका जिला अस्पताल से इलाज चल रहा है। दवा के लिए दो दिन से अस्पताल के चक्कर काट रहे हैं, लेकिन अस्पताल में पर्ची ही नहीं बनी। बिना पर्ची के चिकित्सक उन्हें देख नहीं रहे। जिस कारण उन्हें परेशानी झेलनी पड़ रही हैं। सेक्टर सात निवासी सरोज बाला ने कहा कि वह अस्पताल में दवा लेने के लिए आई थी, लेकिन उनकी पर्ची नहीं कटी।

करीब 2 घंटे तक कर्मचारियों के आने का इंतजार किया लेकिन कोई भी कर्मचारी नहीं आया। सरोज ने कहा कि अस्पताल प्रशासन को कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने के बाद दूसरे कर्मचारियों से व्यवस्था बनानी चाहिए, लेकिन अस्पताल प्रशासन व्यवस्था नहीं बना रहा जिससे आमजन को परेशानी झेलनी पड़ रही हैं।

कइयों की एमएस ने लगा रखी एब्सेंट

कर्मचारियों ने कहा कि चिकित्सा अधीक्षक कर्मचारियों को परेशान कर रहे हैं। कर्मचारियों ने कहा कि नवंबर व दिसंबर माह में चिकित्सा अधीक्षक ने अधिकतर कर्मचारियों की अब्सेंट लगा रखी है। जबकि कर्मचारी ड्यूटी पर थे। कर्मचारियों ने कहा कि मेट्रन व चिकित्सकों की ओपीडी में लगी हाजिरी से उनकी हाजिरी को वेरिफाई किया जाए।

हाजिरी को करा रहे वेरिफाई : कार्यवाहक चिकित्सा अधीक्षक डॉ. लज्जा राम ने कहा कि कर्मचारियों की सैलरी संबंधी समस्या है। जिसे लेकर कर्मचारी हड़ताल पर हैं। कर्मचारियों को ड्यूटी पर आने को लेकर समझाया गया लेकिन कर्मचारी ड्यूटी पर नहीं आए। सोमवार को कर्मचारियों को अक्टूबर माह का वेतन मिल जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

    और पढ़ें