पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

न्यू ट्रेंड:घरों की सजावट में पौधों की बढ़ी डिमांड, रोजाना करीब 40 हजार बिक रहे

कुरुक्षेत्र24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कुरुक्षेत्र | नर्सरी में पौधों की खरीदारी करते लोग। - Dainik Bhaskar
कुरुक्षेत्र | नर्सरी में पौधों की खरीदारी करते लोग।

पेड़ों की हो रही अंधाधुंध कटाई पर्यावरण और परिवेश के लिए घातक साबित हो रही है। इसने जहां मानवीय जीवन को प्रभावित किया है, वहीं असंतुलित मौसम चक्र को भी जन्म दिया है। पिछले कुछ अरसे से लोगों में गार्डन या फिर टेरिस गार्डन बनाने की चाह जगी हैं।

अब इंडोर प्लांट्स लगाने का चलन काफी बढ़ाने लगा है। शहरभर की नर्सरी में हर रोज करीब 40 हजार रुपये तक के हर्बन प्लांट खरीदकर लोग अपने घरों को ले जा रहे हैं। हर्बल पौधों की कीमत 30 से लेकर 300 रुपये तक की है।

इन हर्बल पौधों की ज्यादा डिमांड- प्लांटेशन तैयार करने वाले नर्सरी संचालक राजू ने कहा कि इन दिनों हर्बल पौधों की डिमांड ज्यादा बढ़ने लगी है । फूलों के पौधों में विंका, स्लेसिया, ग्लाडिया, गमप्रीना, कांसमस, बालसम, जीनिया, सूरजमुखी, फोटोलुका की अधिक डिमांड है। इसके अलावा हर्बल पौधों में बेंजिल, आर्गिनो, थाइम, दालचीनी, कपूर, रोजमैरी, लेमन ग्रास, का इलायची, लौंग गिलोय की बेल की अधिक डिमांड है। ऑल स्पाइस और हींग की भी लोग खरीददारी कर रहे हैं।

पौधे कीमत
स्नेक प्लांट - 100 से 200
ड्राइफेरिका पास - 200
स्पाइडर प्लांट - 100
पीस लिली - 100
एरिका पाम - 120
फाइकस - 110

घर की सजावट के लिए इनका हो रहा प्रयोग

नर्सरी संचालक ने बताया कि ऑक्सीजन देने वाले पौधे जैसे एरिका पाम, लेडी पॉम, स्नेक प्लांट, मनी प्लांट, सिंगोनियम, बोना स्नेक प्लांट, स्पाइडर प्लांट को घरों के अंदर इनडोर प्लांट के रूप में लगाया जाता है। यह पौधे घर के अंदर कम रखरखाव में बढ़िया चल जाते हैं। इन पौधों को कम ही पानी की आवश्यकता होती है। ये खराब भी नहीं होते। देखभाल पर अधिक खर्च भी नहीं होता है।

खबरें और भी हैं...