ज्ञापन / पोर्टल बंद हाेने से नहीं खरीदी जा रही सूरजमुखी किसानों ने सौंपा ज्ञापन

Memorandum submitted by sunflower farmers not being purchased with the portal closed
X
Memorandum submitted by sunflower farmers not being purchased with the portal closed

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

इस्माइलाबाद. भारतीय किसान यूनियन के महासचिव स्वामी इंद्र ने कहा कि सूरजमुखी व मक्के की फसल अनाज मंडी में बिकवाली के लिए पड़ी है। सरकारी एजेंसियां उसे खरीद नहीं रही हैं। किसानों का मेरी फसल मेरा ब्यौरा पर फसल का पंजीकरण नहीं हो रहा है। अधिकारी पंजीकरण करने से मना कर रहे हैं। प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किया गया पोर्टल बंद पड़ा हुआ है। इसी को लेकर उनके नेतृत्व में किसानों ने नायब तहसीलदार दलजीत सिंह के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन देने के बाद उन्होंने कहा कि जब तक किसानों की फसल का पंजीकरण नहीं किया जाएगा और उनकी फसल समय पर नहीं खरीदी जाएगी।

तब तक किसानों का आर्थिक नुकसान होता रहेगा। यह किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। उन्होंने सरकार से मांग की है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य को कानूनी रूप दिया जाए। समर्थन मूल्य से कम भाव पर फसल खरीदने को दंडनीय अपराध की श्रेणी में रखा जाए। उन्होंने कहा कि मछली पालन, मुर्गी पालन, डायरी, फूल, बकरी पालन आदि का काम करने वाले किसानों को कर्जा मुक्त किया जाए। उन्होंने कहा कि यदि सरकार उनकी मांगे नहीं मानती तो उन्हें मजबूर होकर आंदोलन की राह अपनानी पड़ेगी। इस मौके पर प्रांतीय प्रचार मंत्री मलकीत, सुखवंत सिंह, जसवंत सिंह व अनूप सिंह मौजूद रहे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना