पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विकास कार्य:विधायक ने 4 गांवों में 1.35 करोड़ की योजनाओं का किया उद् घाटन

कुरुक्षेत्र14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गांव प्रतापगढ़ में पाल समाज की चौपाल के लिए दिए 21 लाख रुपए

विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि थानेसर हलके में सभी सरपंचों, पंचों, ब्लॉक समिति व जिला परिषद के सदस्यों ने गांवों का विकास करने के लिए अपना योगदान दिया। इन पंचायत समिति सदस्यों का 5 साल का कार्यकाल पूरा हो गया है। आने वाले चुनावों में जो व्यक्ति समाज सेवा करना चाहता है, वहीं व्यक्ति राजनीति के क्षेत्र में आगे आए, सभी का समाज सेवा करना ही एकमात्र लक्ष्य होना चाहिए।

विधायक सोमवार को 4 गांवों में 1 करोड़ 35 लाख से भी ज्यादा विभिन्न योजनाओं ओर परियोजनाओं के उद्घाटन एवं शिलान्यास पर बोल रहे थे। इससे पहले विधायक ने गांव घराड़सी में स्वागत द्वार, सामुदायिक केन्द्र, खेड़े की चारदिवारी का उद्घाटन किया। गांव किरमिच में निर्मित शहीद चंद्रभान चौक, गांव खेड़ी मारकंडा में विलेज नॉलेज सेंटर का उद्घाटन किया।

विधायक ने गांव प्रतापगढ़ में पानी निकासी के लिए 50 लाख के बजट की परियोजना का ऑनलाइन प्रणाली से शिलान्यास किया। गांव प्रतापगढ़ में पाल समाज की चौपाल के लिए 21 लाख रुपए देने की घोषणा की और गांव खेड़ी मारकंडा में 4 लाख रुपए की लागत से गांव से कूड़ा एकत्रित करने हेतू 2 ई-रिक्शा भी उपलब्ध करवाई है। विधायक ने कहा कि गांव खेड़ी मारकंडा में विलेज नॉलेज सेंटर बनने से सरपंचों, पंचों और अन्य लोगों को बैठने की उच्चस्तरीय सुविधाएं मिल पाएंगी और अब गांव खेड़ी मारकंडा भी स्वच्छता की श्रेणी में अन्य गांवों से आगे निकल जाएगा।

मौके पर जिला परिषद की उपाध्यक्ष परमजीत कौर कश्यप, ब्लाक समिति के चेयरमैन देवीदयाल शर्मा, सरपंच कौशल कुमारी, मास्टर बंता राम, मंडल महामंत्री राजेश सैनी, सतपाल सैनी, सरपंच खेड़ी मारकंडा अंग्रेज सिंह, मोहन लाल प्रजापत, सरपंच ओमप्रकाश, राम मेहर शास्त्री, सरपंच राजेन्द्र, पूर्व सरपंच नारायण दत्त शर्मा उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

    और पढ़ें