पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिस्टम फेल:नप का तर्क-पीडब्ल्यूडी के नालों की कमी के चलते बनी जलभराव की स्थिति

कुरुक्षेत्र16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 70 एमएम बारिश से शहर पानी-पानी

शहर में नालों की सफाई और पानी निकासी सिस्टम दुरुस्त होने को लेकर डेढ़ माह से दावे हो रहे थे, लेकिन मानसून की पहली ही बड़ी बरसात ने इन दावों की हकीकत बता दी। शहर में शायद ही कोई ऐसी सड़क बची, जो पानी से तालाब न बनी हो। निकासी सिस्टम फेल साबित हुआ। इसके चलते शहरवासियों को दिक्कत झेलनी पड़ी। झांसा एरिया की कई कॉलोनियों में पानी घुस गया। यहां नाले की सफाई न होने को लेकर भास्कर ने भी प्रमुखता से समाचार प्रकाशित किया था।

नाला झांसा रोड एरिया के पानी को ही नहीं खींच पाया। नतीजा पानी रिहायशी कॉलोनियों में ठहर गया। सीवरेज जाम होने व नालों में जमा गंदगी की वजह से निकासी नहीं हो पाई। मानसून में लंबे समय बाद मंगलवार को बूंदाबांदी हुई थी, लेकिन बुधवार को पहली बार अच्छी बरसात हुई। सुबह पांच बजे से बारिश शुरू हो गई। 11 बजे तक झमाझम बारिश हुई। वहीं गांव चढ़ूनी में आसमानी बिजली गिरने से 39 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई। बारिश से शहर में जगह-जगह जलभराव की स्थिति देखने को मिली।

खबरें और भी हैं...