गीता महोत्सव:मूर्तिकला की कोई डिग्री नहीं, दो विषयों में एमए और सितार व वोकल में कर चुकी बीएड

कुरुक्षेत्रएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भगवान विष्णु के सुदर्शन चक्र की कलाकारी - Dainik Bhaskar
भगवान विष्णु के सुदर्शन चक्र की कलाकारी
  • घर में क्ले से खिलौने बनाते-बनाते मूर्तिकार बनीं आईएएस की पत्नी मीनाक्षी, पत्थर को तराशकर बना रही सुदर्शन चक्र

घर में क्ले से छोटे-छोटे खिलौने बनाने वाली मीनाक्षी शर्मा का नाम हरियाणा की प्रसिद्ध मूर्तिकार की सूची में शुमार हो गया है। मूर्ति कलाकार मीनाक्षी शर्मा के पास मूर्तिकला की कोई डिग्री नहीं है, उन्होंने दो विषयों में एमए और सितार और वोकल में बीएड की डिग्री हासिल की है। मूर्तिकार मीनाक्षी शर्मा ने अगस्त 2019 में हरियाणा प्रदेश में पहली बार मनसा देवी मंदिर के लिए पत्थर को तराशकर एक लोगो तैयार किया था। इसके बाद अब वे गीता महोत्सव के बड़े मंच पर भगवान विष्णु के सुदर्शन चक्र को तैयार करने के लिए पहुंची हैं। इस वर्ष हरियाणा कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग के प्रधान सचिव डी सुरेश, निदेशिका प्रतिमा चौधरी के बुलावे पर पहली बार महोत्सव में पहुंची हैं। यह मूर्तिकला शिविर कला एवं सांस्कृतिक कला विभाग के अधिकारी हृदय कौशल के मार्गदर्शन में चल रहा है। आर्ट एंड क्राफ्ट में डायरेक्टर रह चुके आईएएस महेश शर्मा की धर्म पत्नी मीनाक्षी शर्मा ने बताया कि उन्हें बचपन से ही आर्ट एंड क्राफ्ट का शौक था। घर में क्ले से भगवानों की मूर्ति बनाने का प्रयास करती थीं। अब वे गीता जयंती में मंच पर पत्थर को तराशकर भगवान विष्णु का सुदर्शन चक्र बना रही हैं। इस सुदर्शन चक्र के साथ शंख, भगवान विष्णु की गदा और कमल का भी निर्माण कर रही हैं।

खबरें और भी हैं...