पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जिले के 3 नेताओं को मिली चेयरमैनी:14 चेयरमैन में से कुरुक्षेत्र से 3 को कुर्सी, दो जजपाई और एक भाजपाई को चेयरमैन नियुक्त

कुरुक्षेत्र7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
धुम्मन सिंह (फाइल फोटो)
  • किसान आंदोलन को समर्थन देने वाले काला को शुगर फेड, धुम्मन सिंह को सरस्वती बोर्ड व रणधीर को डेयरी विकास संघ की जिम्मेदारी

प्रदेश सरकार गुरुवार को अचानक से प्रदेश में विभिन्न निगम व बोर्डों में चेयरमैन की नियुक्ति की। इनमें भाजपा ने अपने वर्करों के साथ गठबंधन में सहयोगी जजपा को भी हिस्सा दिया। प्रदेश में जहां 14 चेयरमैन व वाइस चेयरमैन नियुक्त किए हैं। वहीं कुरुक्षेत्र से तीन को चेयरमैन बनाया गया है। इनमें दो जजपा के कोटे से हैं। शाहाबाद विधायक रामकरण काला को भी चेयरमैन की कुर्सी मिली। वहीं पूर्व में विधायक व सांसद की टिकट की दौड़ में पिछड़े धुम्मन सिंह किरमिच के भी सितारे चमके। वहीं एक गुहला से विधायक के बेटे को चेयरमैन बनाया है।

सरस्वती नदी का जीर्णोद्धार तेजी से कराएंगे : धुम्मन
धुम्मन सिंह भाजपा के पुराने चेहरे हैं। पिछले कुछ समय से वे एक तरह से लाइमलाइट में भी नहीं थे। धुम्मन जिलाध्यक्ष भी रह चुके हैं। पिछले चुनाव व गत चुनाव में वे सांसद व विधायक की टिकट की दौड़ में भी थे, लेकिन दोनों ही बार उन्हें निराशा मिली। वहीं जिलाध्यक्ष भी उनकी जगह कोई और बने। इसके बाद उन्हें लीगल सेल में संयोजक बनाया था।

अब धुम्मन को पार्टी ने चेयरमैनी से नवाजा। उन्हें सरस्वती हेरिटेज बोर्ड में वाइस चेयरमैन बनाया है। इसमें चेयरमैन खुद सीएम मनोहरलाल हैं। धुम्मन से पहले प्रशांत भारद्वाज वाइस चेयरमैन थे। भाजपा ने ही सरस्वती जीर्णोद्धार के मकसद से यह विशेष बोर्ड बनाया था। धुम्मन ने कहा कि सरस्वती नदी का जीर्णोद्धार संबंधित प्रोजेक्ट को तेजी से पूरा कराने का प्रयास करेंगे।

गन्ना किसानों को उनका हक दिलाएंगे : काला
प्रदेश में 14 विभिन्न निगम व बोर्डों में चेयरमैन नियुक्ति की। इसमें भाजपा ने जजपा के नेताओं व पदाधिकारियों को मौका दिया। जजपा कोटे से चार लोगों को चेयरमैनी मिली । इनमें शाहाबाद से विधायक रामकरण काला को शुगरफैड का चेयरमैन बनाया है। काला से पहले हरपाल सिंह चीका चेयरमैन थे। हरपाल पिछली बार पिहोवा से टिकट के दावेदार थे। बता दें कि रामकरण काला की राजनीति इनेलो से शुरू हुई थी। पिछली बार काला भाजपा के कृष्ण बेदी से हारे थे, लेकिन गत चुनाव में वे कांग्रेस में शामिल होना चाहते थे, लेकिन टिकट को लेकर बात नहीं बनी।

नामांकन से ऐन पहले इनेलो से दिल्ली में जाकर जजपा में शामिल हुए तो साथ ही टिकट मिल गया। गत विस चुनाव में कृष्ण बेदी को भारी अंतर से हराया। बता दें कि कुछ दिन पहले किसानों के आंदोलन के मुद्दे पर काला ने सरकार में होते हुए भी किसानों के धरने पर पहुंच साथ देने का वादा किया था। उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों को उनका हक दिलाएंगे।

जो जिम्मेदारी दी है, उसे निष्ठा से पूरा करेंगे : रणधीर
वहीं कुरुक्षेत्र के ही रणधीर सिंह को हरियाणा डेयरी विकास संघ का चेयरमैन नियुक्त किया है। गौरतलब है कि रणधीर गुहला से विधायक ईश्वर सिंह के बेटे हैं। पहले ईश्वर सिंह के साथ ही रणधीर सिंह कांग्रेस में थे, लेकिन गत विस चुनाव से ऐन पहले गुहला से टिकट ना मिलने पर ईश्वर सिंह कांग्रेस छोड़कर जजपा में शामिल हो गए। जजपा ने टिकट थमा दिया। गुहला से ईश्वर ने जीत दर्ज की। रणधीर सिंह पिता के हलके में काम करने के साथ साथ गैस एजेंसी व कॉलेज का काम भी संभाल रहे थे। रणधीर ने कहा कि सरकार ने जो जिम्मेदारी सौंपी है, उसे निष्ठा से पूरा करेंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें