पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन:फसल गिरदावरी का समय बदलने के विरोध में उतरे पटवारी व कानूनगो

कुरुक्षेत्र2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कुरुक्षेत्र | पटवार भवन मे बैठक करते पटवारी व कानूनगो।
  • पटवार भवन में हुई दी पटवारी एंड कानूनगो एसोसिएशन की बैठक, प्रधान बोले- बिना विचार-विमर्श के समय बदला

फसलों की गिरदावरी का समय बदलने का पटवारी व कानूनगो विरोध कर रहे हैं। दी पटवारी एंड कानूनगो एसोसिएशन कुरुक्षेत्र की बैठक सर्किट हाउस के नजदीक पटवार भवन में हुई। अध्यक्षता जिला प्रधान डॉ. साहब सिंह सैनी ने की।

बैठक में फसलों की गिरदावरी का समय बदलकर फरवरी व अगस्त करने पर विरोध जताया। साथ ही मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन एडीसी वीना हुड्डा को दिया। एसोसिएशन के प्रधान डॉ. साहब सिंह सैनी ने कहा कि गिरदावरी फसल 2019 के संशोधित नोटिफिकेशन से पहले गिरदावरी फसल रबी व खरीफ का मार्च व अक्टूबर में की जाती थी। जो फसलों व मौसम के हिसाब से अनुकूल समय था। लेकिन अब सरकार ने इसे बदलकर फरवरी व अगस्त में कर दिया है।

इस समय गिरदावरी जमीनी स्तर पर संभव नहीं। कारण फरवरी महीने में जहां फसलें कच्ची होती हैं, उनकी किस्म का अनुमान लगा पाना मुश्किल होता है, वहीं अगस्त में बारिश होती हैं, खेतों के कच्चे रास्तों में पानी जमा होता है। कच्ची डोलों पर फिसल होने के कारण चलना संभव नहीं होता। लिहाजा ऐसे में पटवारी द्वारा शिजरा व गिरदावरी रजिस्टर लेकर मौके पर गिरदावरी करना मुश्किल होता है। मौके पर उप प्रधान राजपाल, बाबैन प्रधान सुरजीत सिंह, लाडवा प्रधान वेदपाल, इस्माइलाबाद प्रधान जसमेर सैनी, शाहाबाद प्रधान नवीन, कानूनगो रविंद्र नत, भगवानदास सहित अन्य सदस्य मौजूद रहे।

आरोप-फील्ड अधिकारियों के बिना जारी किए फरमान
एसोसिएशन के प्रदेश के नेता कुलदीप शर्मा, सचिव भूपेंद्र सिंह, कोषाध्यक्ष महिंद्र सिंह ने कहा समय बदलने के जो आदेश जारी किए गए हैं, फील्ड में काम करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों से बिना विचार- विमर्श के किया गया है। इसके अलावा पटवारी व कानूनगो ने जमाबंदी के लिए बनाए सॉफ्टवेयर की खामियों पर भी रोष जताया साथ ही कहा जमाबंदी को तैयार करने का समय मेन्युअल के अनुसार एक साल निर्धारित है। लेकिन अधिकारियों द्वारा इस साफ्टवेयर के जरिए दो महीने में जमाबंदियों का काम निपटाने का दबाव बनाया जाता है।

इतने कम समय में जमाबंदियों को पढ़ना भी संभव नहीं हो पाता। जमाबंदी व गिरदावरी राजस्व विभाग की आधार शिला है। लिहाजा राजस्व रिकार्ड के साथ जल्दबाजी में खिलवाड़ किया जा रहा है। जिससे झगड़े- मुकद्मे बढ़ेंगे। एसोसिएशन सदस्यों ने सीएम से गुहार लगाई है। गिरदावरी का समय बदलने के फैसले को वापस कर पहले की तरह मार्च व अक्टूबर किया जाए। साथ ही जमाबंदी के ऑनलाइन साफ्टवेयर की खामियों को दुरुस्त कर जमाबंदी की समयावधि भी बढ़ाई जाए।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें