पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रोटेस्ट-डे:निजी डॉक्टर्स ने 6 घंटे बंद रखी ओपीडी, प्रोटेस्ट-डे मनाया, डीसी को पीएम के नाम सौंपा ज्ञापन

कुरुक्षेत्रएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कुरुक्षेत्र | मांगों को लेकर डीसी को ज्ञापन देने पहुंचे आईएमए के सदस्य। - Dainik Bhaskar
कुरुक्षेत्र | मांगों को लेकर डीसी को ज्ञापन देने पहुंचे आईएमए के सदस्य।
  • निजी डॉक्टर्स ने 6 घंटे बंद रखी ओपीडी, प्रोटेस्ट-डे मनाया, डीसी को पीएम के नाम सौंपा ज्ञापन

शुक्रवार को आईएमए के सदस्यों ने नेशनल आईएमए के आह्वान पर 6 घंटे ओपीडी बंद रखकर प्रोटेस्ट-डे मनाया। चिकित्सकों ने डीसी को प्रधानमंत्री के नाम मांगों संबंधी ज्ञापन भी सौंपा। आईएमए प्रधान डॉ. नरेंद्र परुथी ने कहा कि कोरोना काल में चिकित्सक दिनरात एक कर लोगों की जान बचाने में लगे हैं। लोगों की जान बचाते करीब 754 चिकित्सक जान गंवा चुके हैं, लेकिन उसके बावजूद भी लोग चिकित्सकों के साथ मारपीट व अभद्र व्यवहार कर रहे हैं। इसे लेकर केंद्रीय कानून बनाया जाए।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जान गंवाने वाले चिकित्सकों को भी शहीद का दर्जा दिया जाए। अभी 168 चिकित्सकों के परिजनों को ही बीमा योजना का लाभ मिल पाया है। डॉ. परुथी ने कहा कि कोरोना काल में सरकार ने कुछ समय तक चिकित्सकों के हित को देखते हुए सख्त कानून बनाए हैं, लेकिन यह कानून सिर्फ कोरोना काल तक ही है। इन कानूनों को कोरोना के बाद भी लागू किया जाए। वहीं चिकित्सकों के ओपीडी बंद रखने के कारण कुछ मरीजों को परेशानी झेलनी पड़ी।

मरीज सरोज ने बताया कि वह एक निजी अस्पताल में दवा लेने के लिए आई थी, लेकिन अस्पताल में चिकित्सक नहीं मिले। जिसके बाद जिला अस्पताल में दवा लेने पहुंची। प्राइवेट अस्पताल के चिकित्सकों के ओपीडी बंद रखने के कारण जिला अस्पताल में मरीजों की भीड़ रही।

खबरें और भी हैं...