आग / शराती तत्वों ने ब्रह्मसरोवर पर खड़ी रेहड़ियों में लगाई आग

Sharati elements set fire to the standing ridges on Brahmasarovar
X
Sharati elements set fire to the standing ridges on Brahmasarovar

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

कुरुक्षेत्र. कोरोना महामारी के चलते हुए लॉकडाउन में ब्रह्मसरोवर के गेट के सामने खड़ी 6 रेहड़ियां शुक्रवार रात को आग लगने से पूरी तरह जल गई। रेहड़ी के सहारे गुजर बसर कर रहे परिवारों के सपने भी जलकर खाक हो गए। शनिवार सुबह जब रेहड़ी संचालकों को अपनी रेहड़ियों में आग लगने की सूचना मिली तो वे तुरंत मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक रेहड़ी जल चुकी थी। रेहड़ी संचालकों ने बताया कि कुछ दिन पहले भी ब्रह्मसरोवर पर दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर के सामने खड़ी तीन रेहड़ियों में भी इसी तरह रात को आगजनी हुई थी। रेहड़ी संचालक इस आगजनी को किसी शरारती व्यक्ति द्वारा लगाई आग बता रहे हैं। सुनहेड़ी खालसा निवासी गुरदयाल ने बताया कि वे पिछले कई सालों से ब्रह्मसरोवर पर रेहड़ी लगा रहे हैं। 24 मार्च को जब लॉकडाउन हुआ तो उन्होंने अपनी रेहड़ी को पेड़ के नीचे खड़ी कर दिया था। तब से रेहड़ी यहीं पर खड़ी थी। शनिवार सुबह उन्हें फोन आया कि उनकी रेहड़ियों में आग लगी है। जब वे मौके पर पहुंचे तो रेहड़ी और सामान जल चुके थे। गुरदयाल, रीना, पवन व जोगिंद्र और तंगोर निवासी महिंद्र ने कहा कि वे जैसे तैसे करके रेहड़ी पर जलजीरा, नींबू-लेमन, आर्टिफिशियल ज्वेलरी व खिलौने बेचकर अपना गुजर बसर कर रहे थे। अब रेहड़ी जलने से वे बेरोजगार हो चुके हैं। रीना ने कहा कि एक ओर तो कोरोना महामारी चल रही है जिसके कारण पहले ही आर्थिक स्थिति खराब है। ऐसे में अब उनकी रेहड़ी भी जल गई हैं, इससे वे सड़क पर आ चुके हैं।

दक्षिणमुखी मंदिर के सामने खड़ी रेहड़ी जलने का नहीं पता चला

कुछ दिन पहले इसी तरह दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर के बाहर खड़ी रेहडि़यों में भी रात को आग लग गई थी। इस आगजनी के कारणों का अभी पता भी नहीं चल पाया था कि अब इससे कुछ ही दूरी पर छह रेहड़ियों में आग लग गई।

रेहड़ी जलने के मामले की कर रहे जांच  : एसएचओ
थाना केयूके एसएचओ सूरज चावला ने बताया कि रेहड़ियों में आग लगने की शिकायत आई है। उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है। आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों को भी खंगाला जा रहा है। उन्होंने कहा कि जांच के बाद ही साफ हो पाएगा कि आग कैसे लगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना