बिना शुल्क के दोबारा परीक्षा के लिए खोला पोर्टल:केयू की ऑनलाइन परीक्षा से वंचित विद्यार्थियों की दोबारा होगी परीक्षा

कुरुक्षेत्र14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी की जुलाई से सितंबर 2021 के दौरान हुई ऑनलाइन परीक्षा में तकनीकी कारणों से अपने पेपर अपलोड न कर पाने वाले व परीक्षा से वंचित रह गए विद्यार्थियों के लिए राहत की खबर है। केयू प्रशासन ने ऐसे सभी विद्यार्थियों के लिए www.kuk.ac.in वेबसाइट पर कंसेंट फॉर्म के नाम से लिंक अपलोड किया है। इस लिंक पर तकनीकी कारणों के चलते पेपर अपलोड न कर पाने वाले विद्यार्थियों को अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। गौरतलब है कि इससे पहले भी केयू प्रशासन की ओर से दो ई-मेल आईडी पर ऑनलाइन पेपर जमा न होने से संबंधित शिकायतें प्रमाण सहित भेजने को कहा था।

इन दोनों ही ई मेल आईडी पर हजारों की संख्या में शिकायतें आई जिसके बाद केयू प्रशासन ने इन सभी विद्यार्थियों के लिए लिंक तैयार करने का फैसला लिया। इस लिंक को शुक्रवार को विद्यार्थियों के लिए खोल दिया गया है। अब 20 जनवरी तक विद्यार्थी दोबारा परीक्षा देने के लिए अपनी सहमति दे पाएंगे। इस तरह की आई थी दिक्कत| दूरवर्ती शिक्षा निदेशालय और प्राइवेट के विद्यार्थियों की ऑनलाइन परीक्षा शुरू तो हो गई लेकिन बीच में ही वे लाॅग आउट हो गए जिस कारण पेपर ही अपलोड नहीं कर पाए। इसके अलावा कई विद्यार्थी ऐसे भी थे, जिन्हेें परीक्षा शुरू होने के बाद रोल नंबर जारी हुए। वहीं अधिकतर विद्यार्थियों के इंटरनेट कम स्पीड से चलने के कारण पेपर अपलोड ही नहीं हो पाए थे। ऐसे सभी विद्यार्थियों ने दोबारा परीक्षा देने के लिए मौका देने की मांग उठाई थी। विद्यार्थियों के परिणाम में आ रही थी दिक्कत| जिन विद्यार्थियों के पेपर ऑनलाइन अपलोड नहीं हो पाए थे। उन विद्यार्थियों के परिणाम में भी दिक्कत आ रही थी। ऐसे विद्यार्थियों को पेपर में गैर हाजिर व रिअपीयर दिखाया जा रहा था। इस कारण विद्यार्थियों की डिग्री पूरी होने में भी देरी हो रही थी।

20 जनवरी के बाद होगी परीक्षाएं| केयू के लोक संपर्क विभाग के निदेशक प्रो. ब्रजेश साहनी ने बताया कि ऑनलाइन परीक्षा में तकनीकी कारणों से पेपर अपलोड न कर पाने और परीक्षा शुरू होने के बाद रोल नंबर जारी होने वाले विद्यार्थियों के लिए केयू ने वेबसाइट पर लिंक डाल दिया है। इस लिंक पर विद्यार्थियों को अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। 20 जनवरी के बाद विद्यार्थियों की परीक्षाएं होंगी। उन्होंने कहा कि इन परीक्षाओं को ऑफलाइन मोड से करवाने का फैसला लिया गया है।

खबरें और भी हैं...