छात्रों का गुस्सा / 7 महीने से स्टायफंड न मिलने से भड़के आयुष यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों ने वर्क सस्पेंड किया

Students of AYUSH University agitated due to lack of staff for 7 months
X
Students of AYUSH University agitated due to lack of staff for 7 months

  • कुलसचिव बोले- बिना अप्रूवल के 35 हजार रुपए देने को तैयार

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

कुरुक्षेत्र. श्रीकृष्णा आयुष यूनिवर्सिटी में नवंबर में एमडी में दाखिला लेने वाले विद्यार्थियों ने पिछले 7 माह से स्टायफंड न मिलने के विरोध में वर्क सस्पेंड कर धरना शुरू कर दिया। विद्यार्थियों ने शुक्रवार को सीएम विंडो पर भी स्टायफंड न मिलने को लेकर शिकायत दर्ज करवाई। गौरतलब है कि 24 विद्यार्थियों ने 7 माह पहले यूनिवर्सिटी में पहली बार शुरू हुए स्नातकोत्तर कोर्स में दाखिला लिया था। विद्यार्थियों ने कुछ माह पहले भी स्टायफंड शुरू करवाने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया था। जिसके बाद आयुष यूनिवर्सिटी की ओर से फाइल आला अधिकारियों को भेजी गई थी, लेकिन इस बात को भी कई महीने गुजर चुके हैं अब तक विद्यार्थियों को स्टायफंड मिलना तो दूर की बात स्टायफंड के पैसे भी निर्धारित नहीं हो पाए हैं। 

यूनिवर्सिटी अपने स्तर पर 35 हजार देने को तैयार | श्रीकृष्णा आयुष यूनिवर्सिटी के कुलसचिव डॉ. अनिल शर्मा ने बताया कि यूनिवर्सिटी ने एमडी के विद्यार्थियों को 60 हजार रुपए स्टायफंड देने का प्रस्ताव बनाकर भेजा हुआ है। जब तक यह अप्रूव नहीं होता तब तक यूनिवर्सिटी ने विद्यार्थियों की आर्थिक समस्या को देखते हुए अपने स्तर पर 35 हजार रुपए मासिक स्टायफंड देने के लिए तैयार है। वित्त विभाग की ओर से जितना स्टायफंड अप्रूव किया जाएगा, उसका बैलेंस विद्यार्थियों को बाद में दे दिया जाएगा। लेकिन विद्यार्थी 35 हजार रुपए लेने से मना कर रहे हैं

विद्यार्थी बोले- स्टायफंड पूरा लेंगे

आयुष यूनिवर्सिटी से एमडी कर रही डॉ. रंजलि, डॉ. स्वाति, डॉ. पंकज, डॉ. विशाखा, डॉ. अंजू और डॉ. सेशन ने बताया कि आयुष यूनिवर्सिटी ने दाखिले के समय उनसे 7.50 लाख का बांड साइन कराया था। इसमें लिखा गया है कि अगर पीजी कोर्स को बीच में छोड़ते हैं तो जुर्माने के तौर पर स्टायफंड की पूरी राशि और 7.50 लाख रुपए देने होंगे। इतना ही नहीं आने वाले अगले तीन साल तक कहीं और दाखिला तो दूर की बात प्रवेश परीक्षा भी नहीं दे पाएंगे। विद्यार्थियों ने कहा कि यूनिवर्सिटी प्रशासन ने अपने हक के नियम तो तुरंत बना लिए लेकिन विद्यार्थियों को देने वाले स्टायफंड की राशि अब तक निर्धारित नहीं की।।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना