पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

किसान आंदोलन:किसानों के काफिले के साथ पहुंचे चढ़ूनी का किया स्वागत

शाहाबाद13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हक के लिए आवाज उठाना आपका अिधकार, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी - Dainik Bhaskar
हक के लिए आवाज उठाना आपका अिधकार, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी

किसान आंदोलन को तेज करने के लिए भाकियू के अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ूनी अम्बाला के हजारों किसानों के साथ दिल्ली की ओर रवाना हुए। रविवार को जैसे ही गुरनाम सिंह चढ़ूनी शाहाबाद के गांव रतनगढ़ पहुंचे तो किसान नेता जसबीर सिंह मामूमाजरा व सैकड़ों किसानों ने फूल-मालाओं के साथ उनका स्वागत किया।

गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने कहा कि तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक केंद्र सरकार इन तीनों कृषि कानूनों को रद्द नहीं करती। चढ़ूनी ने कहा कि यह काफिला सरकार को दिखाने के लिए है कि किसान आंदोलन कमजोर नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि किसानों के अंदर आज भी वही जोश, जुनून और जज्बा है जो छह माह पहले था।

उन्होंने कहा कि इस कड़ी में दिल्ली बॉर्डर पर हजारों की संख्या में किसान जाएंगे। उन्होंने कहा कि यह केवल अम्बाला जिले के किसानों का जत्था है इसके बाद इसी तरह से करनाल और पानीपत से भी जत्थे दिल्ली जाएंगे।

किसान मजदूर फेडरेशन के गठन पर चढ़ूनी ने कहा कि कई संगठन ठंडे पड़े थे जोकि संगठन बनने के बाद और सक्रिय हो गए हैं। उन्होंने कहा कि टोहाना का मसला अभी पूरी तरह से नहीं निपटा है और यदि जरूरत पड़ी तो फिर एक बार थानों का घेराव किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...