लैब काे मिले अत्याधुनिक उपकरण:3 से 4 हजार काेविड टेस्ट ज्यादा हाेंगे, डॉ. लाल पैथ लैब व शिवालिक बोर्ड दे दिए सयंत्र

अम्बाला6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लैब में अत्याधुनिक उपकरणों के साथ मौजूद सीएमओ व अन्य डॉक्टर्स। - Dainik Bhaskar
लैब में अत्याधुनिक उपकरणों के साथ मौजूद सीएमओ व अन्य डॉक्टर्स।

जिला आणविक प्रयोगशाला में कोविड-19 की जांच की क्षमता बढ़ाने के लिए क्लास-3 लैमिनार फलो, 2 से 8 डिग्री फ्रिज, लैबोटिसेंटरफियूज मशीन एवं 8 चैनल जैसे अत्याधुनिक उपकरण डॉ. लाल पैथ लैब फाउंडेशन व शिवालिक डिवलेपमेंट बोर्ड हरियाणा एवं रीजनल सेंटर फॉर एनटरप्रिनियोसिक डेवलेपमेंट ने दिए।

अम्बाला की जिला आणविक प्रयोगशाला कैथल व कुरूक्षेत्र के सैंपल भी जांच करती हैं। इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ. कुलदीप सिंह, डिप्टी सीएमओ डॉ. राजेंद्र राय, अतिरिक्त प्रवर चिकित्सा अधिकारी डॉ. पल्लवी, सेवानिवृत्त डीजीपी महेश सिंगला, आरसीईडी के निदेशक परमजीत सिंह, डॉ. अमित चोपड़ा एवं सतविंदर सिंह बग्गा शामिल थे। इन अत्याधुनिक संयंत्रों से लैब की जांच की क्षमता तीन हजार से चार हजार प्रतिदिन बढ़ने की उम्मीद है।

सिविल सर्जन ने बताया कि लैब पिछले साल 28 मई को स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने शुरू की थी। लैब में 11 माह में तीन लाख के करीब सैंपल की जांच की है। कोविड-19 की दूसरी लहर में लैब दिन-रात सैंपल जांच कर रही है। 24 घंटे के अंदर सभी रिपोर्ट ambalacovid19report.in पर तुरंत अपलोड करती है।

सभी लोग अपनी रिपोर्ट 13 डिजिट का एसआरएफ आईसी (पहला शून्य हटाकार) डाल कर अपनी रिपोर्ट कभी भी कहीं से भी डाउनलोड कर सकते हैं। इस वेबसाइट से आज तक 25 हजार के करीब रिपोर्ट्स डाउनलोड की गई हैं। 80 हजार से ऊपर लोगों ने अपनी रिपोर्ट ऑनलाइन देखी हैं। लैब में 2 आरटीपीआर मशीनें, 2 ट्रूनांट एवं 1 सिबीनॉट मशीन की सुविधा पहले से उपलब्ध है। लैब 1 दिन में ढाई हजार से 3 हजार सैंपल प्रतिदिन जांच होते हैं।

खबरें और भी हैं...