रिकाॅर्ड 1469 एक्टिव केस:अकेले सिटी में 603, नसीरपुर कम्युनिटी सेंटर में 50 बेड का कोविड केयर सेंटर बनेगा

अम्बाला सिटी7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कैंट कांग्रेस भवन के पास एंबुलेंस में काेराेना वैक्सीन लगाती नर्स। - Dainik Bhaskar
कैंट कांग्रेस भवन के पास एंबुलेंस में काेराेना वैक्सीन लगाती नर्स।
  • कोरोना के 113 नए केस मिले, कुल आंकड़ा 15708, अप्रैल के 12 दिन में सर्वाधिक 1613 मरीज मिले
  • अब सिटी और कैंट में मोबाइल एंबुलेंस से वैक्सीनेशन शुरू

साेमवार को कोरोना के 113 मरीज मिलने के बाद जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 1469 हो गई है, जाेकि अब तक ज्यादा है। मरीजों के बढ़ते दबाव को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने नसीरपुर के कम्युनिटी सेंटर को 50 बेड का कोविड केयर सेंटर बनाने का निर्णय लिया है।

इसमें विशेषकर उन मरीजों को रखा जाएगा जिनके घरों में कॉमन टाॅयलेट हैं या फिर घर में मरीज की देखभाल का कोई प्रबंध नहीं है। अभी जिले में 1365 मरीज होम आइसोलेट हैं। वहीं, एक्टिव मरीजों की बात करें तो सिटी में कैंट व अन्य किसी भी सेंटर के मुकाबले दोगुने मरीज हैं।

सिटी में अभी तक 603 एक्टिव मरीज हैं, जबकि कैंट में 252, चौड़ मस्तपुर सीएचसी के एरिया में 259, मुलाना में 127, बराड़ा में 88, शहजादपुर में 99 व नारायणगढ़ में 41 मरीज एक्टिव हैं। अप्रैल के 12 दिन में 8.33 प्रतिशत की संक्रमण दर से 1613 केस मिल चुके हैं। इस अवधि में अन्य महीनों की तुलना में सबसे ज्यादा 19350 लोगों के टेस्ट किए गए हैं। चिंता बढ़ाने वाला आंकड़ा यह भी है कि इन 12 दिन में 12 मौतें भी हो चुकी हैं।

जिले में वैक्सीन की 70 हजार डोज उपलब्ध

स्वास्थ्य विभाग ने जिले में वैक्सीन की कोई कमी होने से इंकार किया है। सिविल सर्जन डॉ. कुलदीप सिंह ने बताया कि जिले में करीब 70 हजार डोज वैक्सीन उपलब्ध है। दोपहर तक करीब 45 हजार डोज थी जबकि दोपहर बाद करीब 25 हजार डोज और मिल गई।

विभाग ने वैक्सीनेशन का दायरा बढ़ाने के मकसद से सोमवार को सिटी व कैंट में मोबाइल एंबुलेंस से वैक्सीनेशन शुरू कर दिया। ये मोबाइल एंबुलेंस बाजारों में रुक-रुक कर लोगों से वैक्सीन लगवाने की अपील व प्रेरित कर रही है। जिससे 45 साल से ज्यादा उम्र वाले ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा सके। जिले में अब तक 2,09,668 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है।

सोमवार को 8489 लोगों को वैक्सीन की पहली व दूसरी डोज लगाई गई है। विभाग को को-वैक्सीन के भी जल्द मिलने की उम्मीद है। सिविल सर्जन ने बताया कि कोरोना से निजात दो ही सूरत में मिल सकती है या तो कोरोना हो चुका हो और एंटी बॉडी बन जाएं या फिर वैक्सीन लगवाकर बचाव किया जा सकता है।

कपड़े के बजाय थ्री लेअर मास्क इस्तेमाल करें

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक कोरोना का ग्राफ मास्क नहीं लगाने व घटिया किस्म का मास्क लगाने से भी बढ़ रहा है। जो लोग घर में बनाए कपड़े के मास्क इस्तेमाल कर रहे हैं वे कोरोना के मामले में प्रभावशाली नहीं हैं। ऐसे लोग थ्री लेअर मास्क इस्तेमाल करें और मास्क से नाक को कवर करके रखें। मास्क दिखावे के लिए नहीं बल्कि संक्रमण से बचाव के लिए इस्तेमाल करें।

1912 नए सैंपल लिए, 1803 की रिपोर्ट पेंडिंग

शाम 5 बजे तक 1912 लोगों ने कोरोना का टेस्ट कराया। वहीं, 1803 रिपोर्ट पेंडिंग चल रहीं थी। 93 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। अब रिकवरी रेट 89.55 प्रतिशत है।

कैंट से 25 व चौड़मस्पुर एरिया में 29 मरीज मिले

सिटी से 22, कैंट से 25, चौड़मस्तपुर से 29, शहजादपुर से 15, मुलाना से 14, नारायणगढ़ से 6 व बराड़ा में 2 केस कैंट में सबसे ज्यादा महेश नगर से 6 मरीज व करधान से 5 मरीज मिले हैं। जबकि वशिष्ठ नगर, बोह व डिफेंस कॉलोनी से 3-3 मरीज मिले।

इसी प्रकार हरमिलाप नगर, अर्जन विहार, दयाल बाग, पंजोखरा से 2-2 व पालम विहार से एक मरीज मिला। सिटी में जंडली से 4 मरीज मिले हैं। इसी प्रकार सेक्टर-8, पालिका विहार, काजीवाड़ा, बलाना से 2-2, सेक्टर-7, मॉडल टाउन, बलदेव नगर, कांशी नगर, सोनिया कॉलोनी से एक-एक मरीज मिला। साहा से 2 व काला अम्ब से 3 मरीज मिले हैं।

खबरें और भी हैं...