• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • 9 Colonies Of Cantt city Became Micro containment Zone, Increased Strictness After Coming To 3505 Positive In 14 Days

कोरोना संक्रमण:कैंट-सिटी की 9 काॅलोनियां बनीं माइक्रो कंटेनमेंट जाेन, 14 दिन में 3505 पॉजिटिव आने के बाद बढ़ी सख्ती

अम्बाला3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आरटीपीसीआर कराने के बाद भी सिविल अस्पताल के कांट्रेक्ट कर्मी ड्यूटी दे रहे हैं। - Dainik Bhaskar
आरटीपीसीआर कराने के बाद भी सिविल अस्पताल के कांट्रेक्ट कर्मी ड्यूटी दे रहे हैं।

14 दिन में काेराेना के 3505 पॉजिटिव केस आने के बाद डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट ने 9 काॅलोनियों को माइक्रो कंटेनमेंट जोन में तबदील किया है। कैंट व सिटी के एसडीएम को अपने एरिया में ओवरऑल इंचार्ज बनाया है। यहां पहली लहर जैसी सख्त कार्रवाई तो नहीं होगी, लेकिन बेवजह घूमने पर पाबंदी रहेगी। दुकानें खुली रहेंगी। डीएम विक्रम सिंह ने सिटी में निगम एरिया में आने वाले गांव जंडली, दुर्गानगर, सेक्टर-9 व 10 तथा अम्बाला कैंट में बब्याल, डिफेंस काॅलोनी, दयालबाग, महेशनगर व कच्चा बाजार को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया हैं।

यहां बाकायदा पुलिस नाके लगाकर कार्रवाई की जा रही है। अगर कोई व्यक्ति बिना किसी कारण से यहां घूमता नजर आया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने स्पष्ट किया कि जिस भी संस्थान, प्रतिष्ठान में नियमों की अवहेलना पाई गई वहां संबंधित मालिक या दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 5 हजार रुपए जुर्माना किया जाएगा। इन माइक्रो कंटेनमेंट जोन में पहली लहर जैसे सख्ती नहीं होगी। न ही एरिया को सील या बंद किया जाएगा। केवल बेमतलब की आवाजाही को रोका जाएगा।

कंटेनमेंट जोन में पुलिस नाके लगेंगे। पैरामेडिकल स्टाफ डोर-टू-डोर सर्वे कर लक्षण वाले लोगों के टेस्ट करेगा। आइसोलेशन के मरीजों के संपर्क में आने वालाें के टेस्ट होंगे। सॉलिड वेस्ट उठाने के लिए विशेष प्रबंध किए जाएंगे। जरूरी वस्तुओं की सप्लाई हो‌गी। पीने के पानी की सप्लाई सुनिश्चित की जाएगी। पशुओं के लिए चारे की सप्लाई जारी रहेगी। समय अनुसार मेडिसिन की सप्लाई हाेगी।

काेराेना के 508 केस मिले, नवोदय स्कूल के 6 स्टूडेंट्स और 3 डॉक्टर भी संक्रमित
शुक्रवार को 508 लोग संक्रमित मिले। इनमें नवोदय स्कूल के 6 बच्चों समेत 109 बच्चे और 3 डॉक्टर भी पॉजिटिव आए हैं। जो 109 बच्चे पॉजिटिव आए हैं, उनमें 12 साल के कम उम्र के 48 बच्चे शामिल हैं। जबकि 12 से 18 साल की उम्र के 61 बच्चे संक्रमित मिले। सरकारी विभागों के 38 कर्मी भी संक्रमित हुए हैं। विदेश से आए 3 लोगों में भी संक्रमण पाया गया।

सिटी में ज्यादा असर
कुछ दिन से अम्बाला सिटी में सबसे ज्यादा लोग पॉजिटिव आ रहे हैं। शुक्रवार को भी यही हालात रहे। सिटी में एक दिन में 178 लोग संक्रमित पाए गए, जबकि कैंट में 114, चौड़मस्तपुर में 111, नारायणगढ़ में 9, शहजादपुर में 34, बराड़ा में 32 तथा मुलाना एरिया में 30 लोगों में संक्रमण मिला।

166 मरीज डिस्चार्ज
जिले में अब तक मिले मरीजाें का कुल आंकड़ा 33747 पहुंच गया है। शुक्रवार काे 166 मरीज ठीक होने के बाद डिस्चार्ज हुए। डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की संख्या 30184 है। अब कुल एक्टिव मरीज 3047 हैं। इलाज की दर 89.44 प्रतिशत है।

आरटीपीसीआर कराने के बाद भी ड्यूटी दे रहे सिविल अस्पताल के कांट्रेक्ट कर्मी
सिटी सिविल अस्पताल के कांट्रेक्ट कर्मियों को तब तक कोरोना लीव नहीं मिलती जब तक उनकी पॉजिटिव रिपोर्ट नहीं आ जाती। जबकि आरटीपीसीआर टेस्ट कराने के बाद वह ड्यूटी के दाैरान कई लोगों के संपर्क में आ चुका होता है। ऐसे ही अभी तक 8 कर्मी पॉजिटिव आ चुके हैं। जबकि शुक्रवार को 3 कर्मियों में लक्षण मिलने पर आरटीपीसीआर तो कराया, लेकिन उन्हें आइसोलेट करने की बजाए ड्यूटी करनी पड़ी। उनकी रिपोर्ट शनिवार को आएगी।

तब तक वह कई लोगों के संपर्क में आ चुके हाेंगे। कांट्रेक्ट बेस पर रखे कर्मियों के सुपरवाइजर रवि ने कहा कि वह अपने सामने आरटीपीसीआर कराते हैं। अभी उनके पास एजेंसी की तरफ से ऐसे कोई निर्देश नहीं आए कि ऐसे कर्मियों को आइसोलेट किया जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना लीव पर गए कर्मियों काे आइसोलेशन पीरियड के दौरान की सैलरी दी जाएगी या नहीं, इस बारे में उनके पास कोई निर्देश नहीं आए हैं।

खबरें और भी हैं...