पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

धोखाधड़ी का मामला:धोखाधड़ी के आरोपी अकाउंटेंट ने फर्जी दस्तावेजों पर पाई थी हीलिंग टच में नौकरी

अम्बाला सिटी22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अस्पताल ने 10 मई को दर्ज कराया था 57 लाख की धोखाधड़ी का केस
  • अस्पताल ने आरोपी के अनुभव प्रमाण पत्रों की जांच कराई तो निकले फर्जी, शिकायत दी

हीलिंग टच अस्पताल में 57 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने के आरोपी अकाउंटेंट ने जिन दस्तावेजों पर नौकरी पाई थी वे भी फर्जी निकले हैं। अस्पताल के एडमिनिस्ट्रेटिव डायरेक्टर राजकुमार बख्शी ने बलदेव नगर पुलिस को शिकायत देकर बताया कि अस्पताल में दिए गए अनुभव प्रमाण पत्रों की जब जांच कराई तो वे सही नहीं पाए गए।

आरोपी ने जिन कंपनियों का अनुभव प्रमाण पत्र दिया था वहां उसने काम ही नहीं किया था। अस्पताल प्रशासन ने आरोपी पर कार्रवाई की मांग की है। हालांकि, आरोपी अस्पताल प्रशासन की तरफ से 10 मई को दर्ज कराए गए 57 लाख की धोखाधड़ी के मामले में पहले से ही जेल में बंद है।

टॉप कंपनियों में काम करने का अनुभव दिखाया

अस्पताल के प्रशासनिक अधिकारी की तरफ से दी शिकायत के मुताबिक अस्पताल ने अकाउंटेंट के पद को लेकर विज्ञापन निकाला था। इसमें कई सारे लोगों के आवेदन आए थे। उनमें से एक भारत भल्ला का भी था। जिसने अपने अपने अनुभव को बढ़ा-चढ़ाकर दिखाया हुआ था। इनमें उसने अम्बाला की टॉप मोस्ट इंस्ट्रयूमेंट्स लिमिटेड व चंडीगढ़ की महिमा इंटरप्राइजेज का अनुभव प्रमाण पत्र भी अपने आवेदन में लगाया था।

इन सर्टिफिकेट पर उसने नौकरी हासिल की व 22 जून 2020 को नौकरी शुरू की थी। जब उनके वित्तीय नियंत्रक और लेखा परीक्षक वरुण गोयल के माध्यम से ऑडिट किया गया तो इस निरीक्षण में पाया गया कि अस्पताल से बड़े पैमाने पर नकदी चोरी हुई है। अब जब उन्होंने उसके अनुभव प्रमाण पत्र की जांच संबंधित कंपनियों से कराई तो उन्हें पता चला कि आरोपी ने कभी वहां काम ही नहीं किया था। जिसके अनुभव प्रमाण पत्र फर्जी थे।

खबरें और भी हैं...