• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • Ambala News: Farmers Upset Due To Non increase In Sugarcane Rates.Gurnam Singh Chadhuni Called A State Level Meeting In Kurukshetra

हरियाणा में किसानों का आंदोलन खत्म:गुरनाम चढ़ूनी बोले- 10 रुपए बढ़ाना भी जीत; SKM का समर्थन करने का ऐलान

अंबाला/कुरुक्षेत्र2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा में गन्ने के दाम 450 रुपए करने की मांग को लेकर संघर्ष कर रहे चढ़ूनी ग्रुप ने आंदोलन खत्म करने का ऐलान कर दिया है। गुरुवार को कुरुक्षेत्र की सैनी धर्मशाला में हुई राज्यस्तरीय मीटिंग में BKU अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने इसकी घोषणा की। साथ ही संयुक्त किसान मोर्चा के विरोध में चल रहे चढ़ूनी ने उनका समर्थन करने की बात कही है। हालांकि, चढ़ूनी ने पहले पत्र लिख SKM पर कई गंभीर आरोप लगाए थे।

गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने कहा कि सरकार ने संतोषजनक रेट नहीं बढ़ाए, फिर भी इसे किसानों की जीत कह सकते हैं क्योंकि आंदोलन करके 10 रुपए प्रति क्विंटल गन्ने के दाम उन्होंने बढ़वाए हैं। किसानों का आंदोलन आज से खत्म हो रहा है। किसान लंबे समय तक गन्ना नहीं रोक सकता, इसलिए आंदोलन खत्म करने का निर्णय लिया है।

सैनी धर्मशाला में मीटिंग करते गुरनाम सिंह चढ़ूनी।
सैनी धर्मशाला में मीटिंग करते गुरनाम सिंह चढ़ूनी।

SKM का समर्थन करेगा चढ़ूनी ग्रुप
उधर, गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने संयुक्त किसान मोर्चा को समर्थन देने का भी ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि अगर संयुक्त किसान मोर्चा गन्ने के दाम को लेकर कोई भी फैसला लेगा तो BKU चढ़ूनी ग्रुप उसका समर्थन करेगी। इस मौके पर चढ़ूनी ने हरियाणा में विधानसभा के चुनावों में BJP का विरोध करने का ऐलान किया है। बता दें कि सैनी धर्मशाला कुरुक्षेत्र में प्रदेशभर के किसानों की गुरनाम सिंह चढ़ूनी की अध्यक्षता में मीटिंग हुई।

अमित शाह की रैली का नहीं करेंगे विरोध
यही नहीं, पिछली मीटिंग में लिए गए फैसलों को भी चढ़ूनी ने वापस ले लिया है। चढ़ूनी ने कहा कि 27 जनवरी को सड़क जाम करनी तथा 29 जनवरी को सोनीपत के गोहाना अनाज मंडी में होने वाली गृह मंत्री अमित शाह की रैली में अर्धनग्न होकर प्रदर्शन करने का जो प्रोग्राम था वह वापस ले लिया है। अब किसान शाह की रैली का विरोध नहीं करेंगे।

गन्ने की जलाई होगी
बुधवार को किसानों ने ट्रैक्टरों के साथ CM के पुतले की शव यात्रा निकालकर विरोध जताया। साथ ही किसान चौधरी छोटू राम की जयंती पर शुगर मिलों पर गन्ने की होली जलाई गई। बता दें कि हरियाणा में किसान गन्ने का रेट बढ़ाने को लेकर पिछले कई दिनों से शुगर मिलों के गेट पर ताला जड़ धरने पर बैठे थे।

पड़ोसी राज्य से भी कम मिल रहे दाम
पंजाब में 380 रुपए प्रति क्विंटल गन्ने के दाम है, जबकि हरियाणा में 10 रुपए दाम बढ़ाने के बाद भी 372 रुपए पहुंचा है। जिला प्रधान मलकीत सिंह ने कहा कि कांग्रेस की सरकार में गन्ने के दाम 193 रुपए बढ़े थे। कांग्रेस की सरकार में उस वक्त गन्ने के दाम 117 से 310 रुपए तक पहुंच गए थे, लेकिन BJP सरकार ने पिछले 8 सालों में मात्र 62 रुपए की बढ़ोतरी की है। जबकि महंगाई सालाना 7 फीसदी से अधिक बढ़ रही है।