अंबाला में होमगार्ड जवानों का रक्तदान शिविर:गृह मंत्री बोले- साइंस ने कितनी तरक्की की, लेकिन आज तक खून की एक बूंद नहीं बना पाई

अंबाला2 महीने पहले
अंबाला कैंट सिविल अस्पताल में आयोजित विशाल रक्तदान शिविर में रक्तदान करते होमगार्ड।

हरियाणा के अंबाला कैंट में आज होमगार्ड जवानों की ओर से रक्तदान शिविर लगाया गया है। सिविल अस्पताल अंबाला कैंट में लगे शिविर में सुबह से दोपहर 12 बजे तक 100 से अधिक जवान रक्तदान कर चुके हैं। शिविर में रक्तदान करने वाले जवानों की लाइन लगी हुई है।

कार्यक्रम में विशेष रूप से पहुंचे हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि सेवा के काम में रक्तदान से बड़ा कोई काम नहीं हो सकता। साइंस ने भले ही कितनी तरक्की कर ली हो, लेकिन आज तक एक बूंद भी खून की नहीं बना पाई। जब भी किसी व्यक्ति को खून की जरूरत पड़ती है तो कहीं और से नहीं लिया जा सकता। वह मनुष्य को ही देना पड़ता है। कहा कि जो लोग रक्तदान करने के लिए आगे आते है उनका देश और समाज पर बहुत बड़ा एहसान होता है।

कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में सेवा का पखवाड़ा मनाया जा रहा है। देशभर में जगह-जगह रक्तदान शिविर लगाए जा रहे हैं। उन्होंने पूरे हरियाणा में ब्लड डोनेशन कैंप लगाने का आह्वान किया है। उन्होंने वादा किया है कि हरियाणा में ब्लड को स्टोर करने की जितनी भी कैपेसिटी है वो सारी भर देंगे। उन्होंने सभी अस्पतालों को निर्देश दे दिए हैं।

गृह मंत्री ने कहा कि अगर ज्यादा रक्त एकत्रित भी होता है तो हरियाणा दूसरे राज्यों और फौजी भाईयों के लिए भी यूनिट देगा। उन्होंने होम गार्ड जवानों को मोटिवेट किया।

शिविर में रक्तदान करते होमगार्ड जवान।
शिविर में रक्तदान करते होमगार्ड जवान।

महिला होमगार्ड भी करने पहुंची रक्तदान

शिविर में महिला होमगार्ड जवान भी रक्तदान करने पहुंचीं। नगर निगम अंबाला सिटी में तैनात ममता ने बताया कि वह पहले 6 बार रक्तदान कर चुकी है। इस बार 7वीं बार रक्तदान कर रही है। उन्होंने कहा कि खून की जरूरत इंसान को है, सड़कों को नहीं। वह खुद दूसरी महिलाओं को मोटिवेट करती रहती हैं।