अंबाला में गृह मंत्री का जनता दरबार:बिजली निगम के JE को सस्पेंड करने के निर्देश, कनेक्शन के लिए 35 हजार मांगने का आरोप

अंबाला2 महीने पहले
जनता दरबार में लोगों की समस्याएं सुनते गृह मंत्री अनिल विज।

हरियाणा के अंबाला कैंट में आज गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के जनता दरबार में पहुंचे फरियादी ने बिजली निगम के JE पर बिजली कनेक्शन के नाम पर 35 हजार रुपए रिश्वत मांगने के आरोप लगाए,जबकि उन्होंने 70 हजार रुपए भी जमा करा दिए हैं। इस पर संज्ञान लेते हुए गृह मंत्री ने JE को सस्पेंड करने के निर्देश दिए।

इतना ही नहीं, अनिल विज ने देर रात को रेड करने के मामले में पुलिस की फटकार भी लगाई है। अंबाला कैंट से पहुंची एक युवती ने बताया कि रात 2 बजे पुलिस उसके घर रेड करने के लिए आई। उस वक्त वह अपनी मां और बहन के साथ थी। इस पर संज्ञान लेते हुए गृह मंत्री ने कहा कि रात को 2 बजे रेड करना कौन सा कानून इजाजत देता है ? कहा कि महिला रात को घर पर अकेली है पुलिस का रात को घर पर जाने का क्या मतलब है। इस मामले में पहले मंत्री ने संबंधित पुलिस कर्मचारी को सस्पेंड करने के निर्देश दिए, लेकिन बाद में ADGP को जांच करने के निर्देश दिए।

वहीं, रामपुर निवासी युवती ने बताया कि देर रात को रेड करके पुलिस उसके भाई को उठाकर ले गई। उसके भाई पर चोरी करने के आरोप लगाए गए हैं। आरोप लगाया कि इस मामले में पुलिस ने 5 हजार रुपए रिश्वत मांगी है। युवती ने अनिल विज को एक रिकॉर्डिंग भी सुनाई। गृह मंत्री ने कहा कि पुलिस चोरों को पकड़े। अगर पुलिस पैसे मांगने लगे तो उनसे बड़ा कौन चोर है।

जनता दरबार में अपनी फरियाद रखते दंपति।
जनता दरबार में अपनी फरियाद रखते दंपति।

सर: बेटी होनहार, स्कूल जाते वक्त मनचला करता है पीछा

अंबाला कैंट निवासी दंपति ने बताया कि उसकी बेटी ने कक्षा 10वीं में 500 में से 500 नंबर हासिल किए हैं। अब 11वीं कक्षा के लिए दूसरे स्कूल में एडमिशन कराया है, लेकिन मनचला उनकी बेटी का पीछा कर रहा है। मनचले के चलते उसकी बेटी पढ़ाई छोड़ने को मजबूर है। गृह मंत्री ने महेश नगर थाना प्रभारी को तुरंत कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

बच्ची के साथ जनता दरबार में पहुंची महिला।
बच्ची के साथ जनता दरबार में पहुंची महिला।

11 हजार वाेल्टेज की चपेट में आई बच्ची, हाथ गंवाए

बरनाला से पहुंची महिला ने बताया कि बिजली निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों की लापरवाही के चलते उसकी मासूम बच्ची को अपना हाथ गंवाना पड़ा। बताया कि 30 जुलाई को उसकी बच्ची 11 हजार वोल्टेज तार की चपेट में आ गई। करंट लगने के कारण पीजीआई चंडीगढ़ में उसकी बेटी का हाथ काटना पड़ा। महिला ने बताया कि उनका पहले मकान बना हुआ था। उसके बाद बिजली निगम ने एक फुट की दूसरी से 11 हजार वोल्टेज की लाइन निकाली। उन्होंने मना भी किया था, लेकिन उनकी अनदेखी की गई। इस पर संज्ञान लेते हुए अनिल विज ने पीड़ित को उचित मुआवजा तथा लापरवाह अधिकारी व कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए।

गृह मंत्री के समक्ष अपनी शिकायत रखते बच्ची की मां व बुआ।
गृह मंत्री के समक्ष अपनी शिकायत रखते बच्ची की मां व बुआ।

डॉक्टर की लापरवाही से मरी बच्ची

दयाल बाग निवासी महिला ने बताया कि निजी डॉक्टर की लापरवाही के चलते उसके 10 माह की मासूम की मौत हो गई। पुलिस उन्हीं पर उल्टा केस बनाने की धमकी दे रही है, जबकि महेश नगर स्थित प्राइवेट क्लीनिक के डॉक्टर ने बच्चे की जांच करने के बाद दवाई दी थी, लेकिन दवा खाते ही बच्ची की तबीयत बिगड़ गई और अस्पताल लाने तक मौत हो गई थी।महिला ने कहा कि कोई मां-बाप अपने मासूम बच्चे को मार देगा क्या ? महिला की शिकायत पर नेगेलेंसी बोर्ड द्वारा जांच कराने के निर्देश दिए।

बता दें कि गृह मंत्री PWD रेस्ट हाउस में दोपहर करीब 1 बजे से अंबाला कैंट विधानसभा क्षेत्र के लोगों की फरियादें सुन रहे हैं। लोगों की शिकायत सुनने के साथ संबंधित अधिकारियों को कार्रवाई के लिए दिशा-निर्देश भी दे रहे हैं। दरबार में खास बात यह रही कि इस बार सभी विभागों के अधिकारी भी उपस्थित हुए, क्योंकि पिछले बुधवार को लगे जनता दरबार में कई अधिकारी नदारद रहे थे। गृह मंत्री ने सख्त लहजे में सभी विभागों के संबंधित अधिकारियों को दरबार में उपस्थित रहने के निर्देश दिए थे। कई अधिकारियों की फटकार भी लगी थी।

जनता दरबार में पहुंचे फरियादी।
जनता दरबार में पहुंचे फरियादी।
बिजली निगम के अधिकारी के खिलाफ शिकायत सौंपते दपंति।
बिजली निगम के अधिकारी के खिलाफ शिकायत सौंपते दपंति।
जनता दरबार में शिकायतें सुनते गृह मंत्री अनिल विज।
जनता दरबार में शिकायतें सुनते गृह मंत्री अनिल विज।
जनता दरबार में महिला की शिकायत सुनते गृह मंत्री।
जनता दरबार में महिला की शिकायत सुनते गृह मंत्री।
खबरें और भी हैं...