रंजिशन युवक को चाकू से गोदा:सोशल मीडिया पर डली हथियारों की फोटो पुलिस को देने से नाराज था, पीड़ित पक्ष की अस्पताल में नारेबाजी

अंबाला21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के अंबाला शहर में एक प्रॉपर्टी डीलर को चाकू से गोद दिया गया। अबाला शहर के काली माता मंदिर के पास बाइक पर आए 3 बदमाशों ने रविदास माजरी निवासी देवेंद्र को रोककर हमला किया। युवक के पट पर एक के बाद एक कई वार किए। दिनदहाड़े ललकारते हुए बदमाश मौके से फरार हो गया। लहूलुहान हालत में युवक को अंबाला शहर ट्रॉमा सेंटर में दाखिल करवाया गया, जहां वह उपचाराधीन है। घायल के परिजनों ने बताया कि पुलिस को बदमाशों के खिलाफ सोशल मीडिया पर हथियार डालने की शिकायत दी थी। कोई कार्रवाई न होने पर परिजनों ने भी अस्पताल में रोष जताया।

अंबाला अस्पताल के बाहर पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने पर रोष जताते हुए लोग।
अंबाला अस्पताल के बाहर पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने पर रोष जताते हुए लोग।

ट्रॉमा सेंटर के बाहर पुलिस के खिलाफ की नारेबाजी

हमले से गुस्साए परिजनों ने अंबाला शहर ट्रॉमा सेंटर में विरोध प्रदर्शन करके रोष जताया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उनको शांत करवाया। वहीं घायल देवेंद्र के भाई आरएस वालिया का कहना था कि करीब 3 दिन पहले ही अंबाला शहरी थाने में हमलावर बदमाशों के खिलाफ शिकायत दी थी। सोशल मीडिया पर हथियारों संग डली फोटो को लेकर आर्म्स एक्ट के तहत कार्रवाई करने की गुहार लगाई गई थी। लेकिन पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया। उसी का नतीजा है कि बदमाशों ने जानलेवा हमला कर दिया। चाकू से कई वार भी किए।

उपचाराधीन देवेंद्र।
उपचाराधीन देवेंद्र।

ऑफिस में जा रहा था देवेंद्र
देवेंद्र ने बताया कि वह प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करता है। सुबह के समय अपने ऑफिस में जा रहा था। तभी बाइक पर आए बदमाशों ने हमला कर दिया। घटनास्थल पर युवक करीब 10 मिनट पर पड़ा रहा। मौके पर चारों तरफ खून ही खून फैल गया था। बदमाशों ने जिस चाकू से हमला किया था, उसका मौके पर से कवर भी बरामद हुआ। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

हमले के बाद मौके पर गिरे बदमाशों के चाकू के कवर को लेकर पुलिस जांच में जुटी।
हमले के बाद मौके पर गिरे बदमाशों के चाकू के कवर को लेकर पुलिस जांच में जुटी।

इस तरह शुरू हुआ था विवाद
दरअसल, करीब एक सप्ताह पहले हमलावर पक्ष ने पीड़ित पक्ष पर आर्म्स एक्ट का मामला दर्ज करवाया था। सोशल मीडिया पर हथियारों वाली फोटो थाने में दे दी थी। इस पर मामला भी दर्ज हो गया था। बाद में जब पीड़ित पक्ष ने भी शिकायत करने वालों की हथियारों संग फोटो पुलिस में दी तो रंजिश शुरू हो गई।

खबरें और भी हैं...