पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भाजपा की कार्रवाई:सीएम खट्टर के इस्तीफे की वीडियो पोस्ट पर भाजपा के मंडल मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल की छुट्टी

अम्बाला4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मंत्री विज के साथ आशीष अग्रवाल। (पुराना फोटो) - Dainik Bhaskar
मंत्री विज के साथ आशीष अग्रवाल। (पुराना फोटो)
  • पहले भी दिगंबर सभा के चुनाव की वीडियो वायरल की थी

मुख्यमंत्री मनोहर लाल से इस्तीफा लेने की फेक वीडियो पोस्ट ग्रुपों में डालना भाजपा के अम्बाला सदर मंडल मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल को महंगा पड़ गया। उन्हें भाजपा जिला अध्यक्ष राजेश बतौरा ने पार्टी के सभी पदों से मुक्त कर दिया है। अग्रवाल के पास आईटी सेल का भी जिम्मा था और रोजाना गृहमंत्री अनिल विज से जुड़ी खबरें-सूचनाएं ग्रुपों में डालते थे।

गुजरात के मुख्यमंत्री रूपाणी के इस्तीफा देने के कुछ देर बाद ही एक वीडियो वायरल हुई थी। जिसका टैग था- मोदी ने लगाई खट्टर की लंका, विजय रूपाणी के बाद खट्टर ने भी दिया इस्तीफा, भाजपा में मचा जबरदस्त हडकंप! यह वीडियो लिंक अग्रवाल ने 18-20 ग्रुपों में फॉरवर्ड कर दिया था। इनमें गृहमंत्री विज से जुड़ा ग्रुप भी था। हालांकि कुछ देर बाद ही यह वीडियो लिंक सोशल मीडिया से हटा लिया गया। जब उन्हें अपनी गलती का अहसास हुआ तो उन्होंने पार्टी से माफी भी मांगी थी ।

दिगंबर जैन सभा के चुनाव से पहले नरेंद्र जैन व विज की पुरानी फोटो डाल दी थी : अम्बाला कैंट श्री दिगंबर जैन सभा चुनाव से पहले अग्रवाल ने सभा में अध्यक्ष पद के प्रत्याशी नरेंद्र जैन की अनिल विज के साथ की एक पुरानी फोटो ग्रुपों में डाल दी थी। कैप्शन लिखा था-अचानक एक पुरानी फोटो मिल गई। असल में सभा के अध्यक्ष पद के लिए दूसरी प्रत्याशी वीके जैन के विज के साथ अच्छे संबंध हैं। ऐसे में नरेंद्र जैन के साथ विज की फोटो वोटरों में भ्रामक मैसेज दे रही थी। वो फोटो भी अग्रवाल ने कुछ देर बाद हटा दी थी। बाद में मंत्री के सामने सफाई दी थी।

वीडियो लिंक वायरल करने में गलती तो हुई है: आशीष
वीडियो गलतफहमी से वायरल हुई है। वीडियो को उन्होंने पूरा नहीं देखा। थोड़ी वीडियो देखकर उन्होंने सोचा कि रूपाणी के इस्तीफे की वीडियो है। इसलिए ग्रुपों में वायरल कर दी। उनके पास जिला अध्यक्ष राजेश बतौरा का फोन आया था। अध्यक्ष को अपनी गलती के बारे बता दिया था। -आशीष अग्रवाल

सरकार के खिलाफ वायरल की वीडियो: बतौरा
आशीष अग्रवाल को पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण पदमुक्त किया गया है। उन्होंने पार्टी के खिलाफ एक वीडियो वायरल की थी। हालांकि उन्होंने माफीनामा भी दिया था, लेकिन पार्टी ने उन्हें पदों से हटाने का निर्णय लिया है।-राजेश बतौरा, जिला अध्यक्ष, भाजपा

खबरें और भी हैं...