नगर परिषद चुनाव:अगस्त-सितंबर से पहले नहीं हो सकेंगे कैंट नगर परिषद के चुनाव, 6 जुलाई तक फाइनल होगी वोटर लिस्ट

अम्बाला10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चुनाव आयोग ने डीसी व ईओ को पत्र लिखकर विधानसभा की वोटर लिस्ट को फाइनल कर भेजने को कहा

नगर परिषद सदर जोन कैंट के चुनाव को अभी कई महीने लग सकते हैं। चुनाव आयोग हरियाणा ने विधानसभा चुनाव 2019 की वोटर लिस्ट को ही फाइनल करके भेजने के आदेश दिए हैं और डीसी को अपीलीय प्राधिकारी (आरए) नियुक्त करने के अलावा 6 जुलाई तक फाइनल वोटर लिस्ट मांगी गई हैं ताकि 7 जुलाई को वोटर लिस्ट को जारी किया जा सकेगा। चुनाव आयोग के आदेशों के बाद नगर परिषद कैंट ने भी वोटर लिस्ट को तैयार करने का काम शुरू कर दिया है। अधिकारियों ने बताया कि जनप्रतिनिधियों को नगर परिषद क्षेत्र के वोटर की सूची दे दी गई है। जनप्रतिनिधि अपने क्षेत्र में रहने वाले परिवारों को वोटर लिस्ट में नाम जुड़वाने की जानकारी देंगे।

चुनाव आयोग की ओर से 15 मार्च को जारी आदेश और शेड्यूल के मुताबिक 19 मार्च से 15 अप्रैल तक नए बूथ व वार्ड स्तर पर जनप्रतिधियों को वोटर लिस्ट देंगे। इसके बाद 16 अप्रैल को सूची जारी करके वोटर की आपत्ति और दावे मांगे जाएंगे। चुनाव आयोग ने जारी आदेशों में कहा है कि 17, 18 व 21 और 25 अप्रैल की सरकारी छुट्‌टी रहेगी। इसलिए 26 अप्रैल तक आपत्तियां और दावे पर सुनवाई होगी। अपीलीय प्राधिकारी 11 मई तक इन दावों और आपत्तियों को सुनवाई करके निपटाया जाएगा। अपीलीय प्राधिकारी के खारिज किए मामले या आदेशों के खिलाफ वोटर डीसी के पास अपनी अपील कर सकेगा। आयोग के मुताबिक 14 मई को ईद है और 15 मई को शनिवार और 16 को रविवार होने की वजह डीसी के पास 17 मई तक अपील करेंगे और डीसी 20 मई को अपील पर सुनवाई करके निपटारा करेंगे और चुनाव आयोग को सूची भेजेंगे। इसके बाद जिला प्रशासन की भेजी गई सूची के बाद चुनाव आयोग फाइनल वोटर 7 जुलाई को जारी करेगा।

डोर-टू डोर वोटर लिस्ट तैयार की जाए, क्योंकि बहुत से परिवारों में वोटर घटे-बढ़े- कांग्रेस

नगर परिषद चुनाव के चलते कांग्रेस पार्टी जहां उम्मीदवार पार्षदों की नब्ज टटोलने में जुटी हैं। हालांकि, नगर परिषद सिटी की तरह अम्बाला कैंट नगर परिषद के चुनाव कांग्रेस अपने कांग्रेस पार्टी सिंबल पर लड़ेगी या नहीं। यह तय होना बाकी है। पूर्व डिप्टी मेयर व जिला शहरी कांग्रेस कमेटी के पूर्व उप प्रधान सुधीर जायसवाल ने बताया कि नगर परिषद के ईओ अपूर्व चौधरी व डीसी को एक पत्र लिखा गया है कि चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनाव के समय में तैयार वोटर लिस्ट को अपडेट करके 6 जुलाई तक मांगा गया है। जिला प्रशासन को नगर परिषद के चुनाव को देखते हुए डोर-टू-डोर वोटर लिस्ट तैयार करके भेजनी चाहिए। क्योंकि विधानसभा चुनाव को करीब दो साल बीतने वाले हैं। इसलिए बहुत से परिवारों में वोटर घटे-बढ़े हैं। कुछ लोगों ने अपने वार्ड और बूथ को भी बदला है।

वोटर लिस्ट तैयार करना जिला प्रशासन का काम है, हम तो आज भी तैयार- भाजपा

गृहमंत्री अनिल विज कैंट में स्थित लार्ड महावीर जैन पब्लिक स्कूल में बूथ प्रधान को नगर परिषद चुनाव कभी भी होने की बात कह चुके हैं और वार्ड प्रधान की नियुक्ति के बाद विकास कार्यों की सूची मांग चुके हैं। विकास कार्यों की सूची भाजपा के सभी वार्ड प्रधान दे चुके हैं जिसके आधार पर वार्ड स्तर पर होने वाले विकास कार्यों के एस्टीमेट तैयार किए जा रहे हैं। एस्टीमेंट तैयार होने के साथ ही टेंडर लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। भाजपा के सदर मंडल प्रधान राजीव डिंपल ने बताया कि वोटर लिस्ट तैयार करना प्रशासन का काम है और हमारी पार्टी चुनाव के लिए तैयार है। गृहमंत्री विज ने जो विकास कार्य की सूची मांगी थी उसे फाइनल किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...