एजुकेशन / एवरेज मार्क्स कम लगने पर दोबारा एग्जाम देने का ऑप्शन भी चुन सकते हैं सीबीएसई 12वीं के स्टूडेंट

X

  • दोबारा एग्जाम देने पर मार्क्स एवरेज से कम आए तो वही होंगे मान्य

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 07:22 AM IST

अम्बाला. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 10वीं व 12वीं के सभी छात्रों को एसेसमेंट स्कीम के तहत पास करने का फैसला किया है। साथ ही 12वीं के छात्रों के लिए दोबारा एग्जाम देने का विकल्प भी रखा है।

यानि अगर 12वीं का छात्र एवरेज मार्क्स से खुश नहीं है तो वह दोबारा बचे पेपर की परीक्षा दे सकता है, लेकिन इसमें पेंच ये है कि दोबारा एग्जाम में छात्र के अगर एवरेज मार्क्स से कम अंक आएंगे तो वह अंतिम होंगे। उन्हें बदला नहीं जाएगा। इसके चलते छात्रों में भी दोबारा एग्जाम चुनने के विकल्प को लेकर दुविधा बनी हुई है। उल्लेखनीय है कि एग्जाम का सही समय केंद्र सरकार ही तय करेंगी। 

भारतीय पब्लिक स्कूल के प्रिंसिपल प्रवीण कुमार ने बताया कि सीबीएसई के 12वीं के छात्रों में दोबारा एग्जाम चुनने के ऑप्शन को लेकर दुविधा बनी हुई है। दुविधा का कारण हाल ही में सीबीएसई द्वारा जारी नोटिफिकेशन हैं, जिसमें अंक सुधार के लिए दोबारा एग्जाम देने का विकल्प है। लेकिन मार्क्स कम आने पर वहीं अंतिम परिणाम होने का डर भी छात्रों में है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए भारत सरकार ने अनलॉक-2 में स्कूल और कॉलेजों को खोलने की तिथि 31 जुलाई तक बढ़ा दी है।

छात्रों को पास करने के लिए ऐसे लागू होगी एसेसमेंट स्कीम
इन तीन पॉइंट के आधार पर तय होंगे एसेसमेंट मार्क्स

  • 10वीं और 12वीं के सभी छात्रों को जिन्होंने सभी एग्जाम दिए हैं, परीक्षा में उनकी परफॉरमेंस के आधार पर सभी का परिणाम दिया जाएगा।
  •  जिन छात्रों ने 3 से ज्यादा सबजेक्ट की परीक्षा दी है, उन्हें उनके बैस्ट 3 सब्जेक्ट के एवरेज अंकों के आधार पर बचे पेपर्स में मार्क्स 
  • दिए जाएंगे।
  •  वे छात्र जो केवल 3 सबजेक्ट में शामिल हुए हैं, उन्हें उनके 3 बैस्ट सबजेक्ट में मिले अंकों के आधार पर बचे पेपर्स में अंक दिए जाएंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना