पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लंबा इंतजार:ईओ छुट्टी पर, एक्साइज एरिया की म्यूटेशन की फाइलें अटकी, कुछ दिन पहले फाइल साइन करने की पावर ईओ काे मिली थी

अम्बाला18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • म्यूटेशन न होने पर न तो लोगों की सुनवाई हो रही है न ही फाइलों का निपटान हो रहा

एक्साइज एरिया में म्यूटेशन के लिए लोगों को लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। फाइलों का निपटान तेजी से हो इसे लेकर सरकार ने नगर परिषद के ईओ को म्यूटेशन साइन करने की पावर दी है, लेकिन इसके बावजूद भी फाइलें कार्यालयों में ही लटक रही हैं। अब ईओ के छुट्टी पर जाने से काम और प्रभावित हो रहा है। करीब 200 से ज्यादा फाइलें इस्टेट ऑफिसर व ईओ कार्यालय के बीच फंसी हुई हैं। म्यूटेशन न होने पर न तो लोगों की सुनवाई हो रही है न ही फाइलों का निपटान हो रहा है।

पल्लेदार मोहल्ला निवासी ज्ञानी कौर के मकान की म्यूटेशन अब तक नहीं हुई है। फाइल को पेंडिंग रखा गया है। परिजनों ने बताया कि कई बार अधिकारियों के चक्कर वह काट चुके हैं, लेकिन फाइल को पास नहीं किया जा रहा। इसी तरह कई अन्य मामले हैं जो दो वर्ष से भी ज्यादा पुराने हैं। बता दें प्रदेश सरकार द्वारा वर्ष 2016 से एक्साइज एरिया की म्यूटेशन पुनः शुरू की गई थी। इस्टेट ऑफिसर के पास फाइल साइन करने की पावर थी, लेकिन बीते वर्ष ही इस्टेट ऑफिसर का चार्ज कैंट एसडीएम को मिला जिसके बाद उम्मीद थी कि फाइलों का तेजी से निपटान होगा।

लेकिन म्यूटेशन से जुड़े मामले अब भी लंबित पड़े हैं। लंबित मामलों को ही देखते हुए ईओ एवं असिस्टेंट इस्टेट ऑफिसर को साइन करने की पावर बीती 26 अगस्त को सौंपी गई थी। लेकिन करीब 10 दिन बीतने पर भी एक भी फाइल साइन नहीं हो सकी। म्यूटेशन कराने के लिए लोग एक-दो माह से नहीं बल्कि बीते कई साल से चक्कर काट रहे हैं। लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

खबरें और भी हैं...