लॉकडाउन / आज से दुकानों का समय सुबह 9 से शाम 6 बजे तक, संडे को भी लेफ्ट-राइट फॉर्मूला

अम्बाला | कैंट की राय मार्केट में टाइमिंग को लेकर दुकानदार कन्फ्यूज रहे। कुछ दुकानें 5:30 बजे के बाद तक खुली रहीं तो कुछ 5 बजे ही बंद हो गईं। अम्बाला | कैंट की राय मार्केट में टाइमिंग को लेकर दुकानदार कन्फ्यूज रहे। कुछ दुकानें 5:30 बजे के बाद तक खुली रहीं तो कुछ 5 बजे ही बंद हो गईं।
X
अम्बाला | कैंट की राय मार्केट में टाइमिंग को लेकर दुकानदार कन्फ्यूज रहे। कुछ दुकानें 5:30 बजे के बाद तक खुली रहीं तो कुछ 5 बजे ही बंद हो गईं।अम्बाला | कैंट की राय मार्केट में टाइमिंग को लेकर दुकानदार कन्फ्यूज रहे। कुछ दुकानें 5:30 बजे के बाद तक खुली रहीं तो कुछ 5 बजे ही बंद हो गईं।

  • लेफ्ट की दुकानें पहले व दूसरे और राइट की दुकानें तीसरे व चौथे संडे को भी खोल सकेंगे

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

अम्बाला. लॉकडाउन-4 के पांचवें दिन आखिर अम्बाला जिला प्रशासन ने दुकानें खुलने का समय बढ़ा दिया है। अब सुबह 9 से शाम 6 बजे तक दुकानें खुली रह सकेंगी। अभी तक यह समय 10 से 5 बजे तक था। यही नहीं अब संडे को भी दुकानें खुलेंगी। लेफ्ट साइड की दुकानें पहले व दूसरे रविवार को तो राइट साइड की दुकानें तीसरे व चौथे रविवार को खुलेंगी। बारबर शॉप, सैलून व ब्यूटी पार्लर के दिन नहीं बढ़ाए गए हैं, उनकी हिदायतें जरूर नए सिरे से तय हुई हैं।

डीएम अशोक शर्मा की ओर से शुक्रवार देर शाम जारी एडवाइजरी के मुताबिक मैरिज पैलेस व बैंक्वेट हॉल भी खुल सकेंगे लेकिन 50 से ज्यादा मेहमान नहीं आ सकेंगे। शादी या अन्य समारोह के लिए पहले संबंधित एसडीएम से अनुमति लेनी होगी। पैलेस या बैंक्वेट हॉल के एंट्री पर गार्ड रहेगा जो सभी के हाथ सेनेटाइज कराएगा। किसी भी मेहमान की एंट्री बगैर थर्मल स्कैनिंग के नहीं होगी। किसी को खांसी या बुखार की शिकायत है तो प्रवेश नहीं मिलेगा। पैलेस संचालक को नियमित सेनिटाइजेशन करानी होगी। पार्किंग स्थल में गाड़ियां भी इस तरह से खड़ी करनी होंगी कि सोशल डिस्टेंसिंग न बिगड़े। एंट्री गेट पर ही पोस्टर लगाना होगा, जिस पर लिखा होगा कि खांसी-बुखार वाले का प्रवेश नहीं होगा। थूकने की मनाही होगी। शादी या समारोह में शराब, पान-गुटका व तंबाकू नहीं परोसा जाएगा। बेकरी, मिठाई, मीट के दुकानें पहले की तरह खुलेंगी, लेकिन होम डिलीवरी ही कर सकेंगे। बाकी दुकानों के लिए टाइमिंग के अलावा सभी नियम पुराने रहेंगे।  

बराती-घराती की निगरानी के लिए किसी की ड्यूटी लगानी होगी
{ट्रैवल के लिए डीसी या अन्य अधिकृत अधिकारी से पास लेना होगा।
{ 50 मेहमान ही बुला सकेंगे और उनकी लिस्ट व रिकॉर्ड रखना होगा।
{ सेंट्रललाइज एसी का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे।
{ कंटेनमेंट जोन में रहने वाले लोग समारोह में शामिल नहीं हो सकेंगे।
{ बारातियों को मास्क पहनना होगा। एक मीटर का फासला रखना होगा।
{ जिसके घर समारोह है उसे किसी को रिश्तेदार को नोडल पर्सन बनाना होगा जो सारी हिदायतों की निगरानी करेगा।
{ मेहमानों को आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना होगा। 

सैलून में ये हिदायतें बरतनी होंगी
{ बुखार-खांसी या गले में दर्द है तो उसे अंदर नहीं आने दिया जाएगा।
{ फेस मास्क के बगैर भी एंट्री नहीं दी जाएगी।
{ एंट्री पर ही हाथ सेनेटाइज कराने होंगे।
{ स्टाफ को भी फेस मास्क, हेड कवर व एप्रन पहनना होगा।
{ डिस्पोसेबल टॉवल व पेपर शीट इस्तेमाल करनी होंगी।
{ हर ग्राहक पर इस्तेमाल से पहले उपकरण सेनिटाइज करने होंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना