पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आढ़तियों की हड़ताल:सरकार ने जिले के 150 डिपाे हाेल्डर्स को दिए गेहूं खरीद के लाइसेंस

अम्बाला सिटी12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 12833 क्विंटल गेहूं खरीद की इंतजार में, शाम तक डिपाे हाेल्डर समेत किसी भी एजेंसी ने नहीं की खरीद
  • आढ़तियाें की मांग-किसान की मर्जी से सीधा खाते में या आढ़ती के जरिए दी जाए पेमेंट

वीरवार काे जिले की सभी अनाज मंडियाें में आढ़तियों ने हड़ताल की। आढ़तियों का कहना है कि पाेर्टल में दिए ऑप्शन के अनुसार किसानाें की मर्जी से सीधा खाते में या आढ़ती के जरिए किसानाें काे पेमेंट दी जाए। वहीं, मंडियाें में किसान गेहूं लेकर ताे जरूर पहुंचे, मगर आढ़तियों की हड़ताल हाेने से गेहूं की खरीद नहीं हाे सकी।

आनन-फानन में सरकार ने जिले में करीब 150 डिपाे हाेल्डराें के खरीद लाइसेंस बना दिए, मगर वीरवार शाम तक डिपाे हाेल्डर ने गेहूं नहीं खरीदी। डीएफएससी राजेश्वर मुदगिल का कहना है कि जिले में करीब 150 डिपाे हाेल्डर के खरीद लाइसेंस बनाए गए, मगर किसी भी डिपाे हाेल्डर ने गेहूं खरीद नहीं की। बता दें कि गेहूं की खरीद न हाेने से सुबह से लेकर शाम तक किसानाें काे मंडियाें में अपनी ढेरियाें की सुरक्षा के लिए पहरा देना पड़ा।

वीरवार काे ताे हड़ताल हाेने से गेहूं नहीं बिकी। 1 अप्रैल से 8 अप्रैल शाम तक जिले की सभी मंडियाें में 845 गेट पास कट चुके हैं। कुल 55678 क्विंटल गेहूं की आवक हाे चुकी है। इसमें से 42845 हजार क्विंटल गेहूं एजेंसियों ने 7 अप्रैल तक खरीदा है और 12833 क्विंटल गेहूं अभी मंडियाें में खरीद के लिए पड़ा है।

आढ़ती एसोसिएशन नई अनाज मंडी सिटी के प्रधान दुनीचंद दानीपुर व कच्चा आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान मक्खन लाल गाेयल का कहना है कि पाेर्टल पर दिए गए ऑप्शन के अनुसार किसान की मर्जी से सरकार काे पेमेंट देनी चाहिए। अगर किसान सीधा अपने खाते में पेमेंट चाहता है ताे उसे खाते में दी जाए और जाे किसान आढ़ती के जरिए पेमेंट चाहते हैं ताे उनकाे आढ़ती के जरिए पेमेंट दी जाए।

लाइव रिपाेर्ट, हड़ताल के कारण न तुलाई न भरपाई

मंडी में किसानाें के गेट पास कट रहे हैं। गेहूं काे ट्राॅली से उतारा भी जा रहा है, मगर हड़ताल हाेने से न ताे गेहूं की तुलाई हाे पा रही है न भरपाई। मजदूर भी अनाज की बाेरियाें पर नींद लेते नजर अाए। गांव सम्भालखा के किसान दिलबर सिंह गेहूं लेकर पहुंचे। दिलबर सिंह ने बताया कि वह वीरवार सुबह से अपनी गेहूं की रखवाली कर रहे हैं।

आढ़तियों की हड़ताल हाेने से गेहूं नहीं खरीदी जा रही। उनका कहना है कि वह अपनी फसल काे आढ़ती के जरिए ही बेचेंगे और उनके जरिए ही पेमेंट लेंगे। अगर काेई प्राइवेट एजेंसी उनकी फसल का ज्यादा भाव भी देगी ताे भी वह अपनी फसल नहीं बेचेंगे। वीरवार सुबह से शाम तक सिटी मंडी में 102 किसानाें के गेट पास कटे। किसान करीब 6220 क्विंटल गेहूं लेकर पहुंचे।

मांगें पूरी न हाेने तक हड़ताल जारी रहेगी: वीर्क

बराड़ा में आढ़तियों ने दुकानें तो खोलीं लेकिन दुकानों पर अनाज नहीं तुलने दिया। आढ़तियों को पता चला कि मुलाना में कुछ आढ़ती अनाज की तुलवाई कर रहे हैं। प्रधान कवलजीत सिंह वीर्क ने मंडी में आढ़तियों से संपर्क साधा और खरीद कार्य बंद करवाया। प्रधान कंवलजीत सिंह वीर्क ने कहा कि मांग पूरी हाेने तक हड़ताल जारी रहेगी।

2 आढ़तियों ने 215 क्विंटल गेंहू की बोली करवाई

नारायणगढ़ मंडी में आढ़तियों ने हड़ताल की। नारायणगढ़ के 2 आढ़तियों ने 215 क्विंटल गेंहू की बोली करवाई। नारायणगढ़ अनाज मंडी और भरेड़ी सेंटर से 42 लोगों ने आढ़ती के लाइसेंस के लिए आवेदन किया है, जबकि शहजादपुर अनाज मंडी और कड़ासन सेंटर से 27 आवेदन किए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें