पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना का प्रकोप:19 छात्र संक्रमित मिलने पर हाेली आईटीआई सील, सिटी में महिला व मुलाना में व्यक्ति की कोरोना से माैत

अम्बाला सिटी7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मुलाना | आईटीआई में निरीक्षण के दौरान बच्चों से बात करते डॉ. बीरबल। - Dainik Bhaskar
मुलाना | आईटीआई में निरीक्षण के दौरान बच्चों से बात करते डॉ. बीरबल।
  • जिले में 30 छात्रों समेत 129 नए केस }एक सप्ताह में रिकाॅर्ड 922 मरीज मिले, अांकड़ा 15 हजार पार
  • ज्यादा केसों वाले 88 इलाकों को कंटेनमेंट जोन बनाने की तैयारी

बराड़ा के गांव होली स्थित सरकारी आईटीआई में बुधवार को 19 छात्र काेराेना संक्रमित मिले। एक साथ इतने ज्यादा छात्रों के संक्रमित मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आईटीआई का दौरा किया और संस्थान काे सील करवाया।

जिले में 30 छात्राें समेत 129 नए केस मिले। वहीं, कोरोना से सिटी के कैलाश नगर की रहने वाली 69 वर्षीय महिला ने दम तोड़ दिया। यह महिला ऑक्सीजन सपोर्ट पर थी। जिसे शुगर व हाइपरटेंशन की भी बीमारी थी। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार काेराेना से यह 167वीं मौत थी।

हालांकि, 64 वर्षीय एक व्यक्ति की मुलाना के एमएम अस्पताल में भी माैत हुई, जिसकी गिनती स्वास्थ्य विभाग ने अपने आंकड़ों में नहीं की है। मरीज को अस्पताल में 28 मार्च को एडमिट किया गया था। मंगलवार रात 9:50 बजे मौत हुई। अस्पताल के मुताबिक कोरोना पॉजिटिव आने के बाद मरीज को फेफड़ों में इंफेक्शन हो गया था, जिसे वेंटीलेटर सपोर्ट पर रखा हुआ था।

वहीं, बुधवार को जिले में कोरोना का कुल अांकड़ा 15 हजार को पार कर गया। जिले में अब कोरोना के कुल केस 15015 हो गए हैं। इनमें से 1333 एक्टिव मरीज हैं। बुधवार को अम्बाला सिटी से 42 मरीज मिले, जबकि कैंट से 36, बराड़ा से 20, चौड़मस्तपुर सीएचसी एरिया में 16, मुलाना से 13 व शहजादपुर से 2 मरीज मिले।

अप्रैल के 7 दिन में रोजाना 131 की औसत से 920 मरीज मिल चुके हैं। फरवरी में संक्रमण दर .75 प्रतिशत थी जाे अब करीब 10 प्रतिशत है। बुधवार को 138 मरीजों को डिस्चार्ज करने के बाद अब रिकवरी रेट 90.01 प्रतिशत है। वहीं, लगातार बढ़ते केसों को देखते हुए विभाग ने उन 88 इलाकों में कंटेनमेंट जोन बनाने का निर्णय लिया है जहां एक घर में 2 से ज्यादा केस हैं। हालांकि, इस बार इन कंटेनमेंट जाेन का स्वरूप अलग हाेगा

एमएम अस्पताल में आईसीयू फुल

बढ़ते मरीजों की वजह से आइसोलेशन व आईसीयू सेंटरों में मरीजों की तादाद भी बढ़ रही है। मुलाना के एमएम अस्पताल का आईसीयू अब फुल हो चुका है और नए मरीजों को यहां जगह नहीं मिल रही। अस्पताल के मुताबिक उनके पास 29 कोरोना मरीज एडमिट हैं और इनमें से 23 की स्थिति गंभीर है। 13 मरीज वेंटीलेटर पर हैं और 10 ऑक्सीजन सपोर्ट पर।

अस्पताल के आईसीयू में पहले महज 5 ही वेंटीलेटर थे, जाे अब 13 है। हालात यह है कि हाल ही में गंभीर तौर पर संक्रमित धनौरा गांव की महिला को अस्पताल में जगह नहीं मिली, उसे वेंटीलेटर की जरूरत थी और उसे यमुनानगर भेजना पड़ा।

हाेली आईटीआई में छात्र बिना मास्क ग्रुप में बैठे थे, एसडीएम ने प्रिंसिपल से मांगा स्पष्टीकरण

मुलाना, बराड़ा के कोविड-19 के नोडल अधिकारी डॉ. बीरबल, एसएमओ बराड़ा डॉ. प्रतीक व डॉ. तरुण की टीम ने आईटीआई का निरीक्षण किया तो स्थिति काफी गंभीर पाई। डॉ. बीरबल ने बताया कि इस दाैरान विद्यार्थी झुंड में थे और काफी बच्चों ने मास्क भी नहीं लगाया था। प्रिंसिपल भी आईटीआई में नहीं थे।

डॉ. बीरबल ने सारे मामले की रिपोर्ट एसडीएम बराड़ा को भेज दी थी। वहीं एसडीएम गिरीश कुमार के आदेश पर आईटीआई को आगामी आदेशों तक के लिए बंद कर दिया है। एसडीएम इस मामले में प्रिंसिपल की लापरवाही मानते हुए नाेटिस देकर उनसे स्पष्टीकरण मांगा है।

होली गांव में 9 व सिटी के प्रेम नगर में 4 केस मिले

बराड़ा में जो 20 केस मिले हैं उनमें से 9 होली गांव के छात्रों के हैं, जो उस आईटीआई में छात्र थे जिसमें एक साथ 19 छात्र आने के बाद सील कर दिया गया। वहीं, साहा, कैंट में डिफेंस कॉलोनी, आलू गोदाम व सिटी में नदी मोहल्ला, प्रेम नगर में 4-4 मरीज मिले। सिटी के कैलाश नगर, न्यू मिलाप नगर, कैंट के बब्याल, हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में 3-3 केस मिले।

इसी प्रकार कैंट में लालकुर्ती, महेश नगर, सेक्टर-9 में 2-2 व महेश नगर, न्यू शालीमार बाग, पंजाबी मोहल्ला व सिटी के प्रीत नगर, उत्तम नगर, कैथ माजरी, मानव विहार,पटेल नगर, शिवालिक कॉलोनी में एक-एक मरीज मिला।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

    और पढ़ें