पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पोर्टल से लिंक गायब:4.55 करोड़ रुपए के टेंडर में 1 बजे तक दाखिल होनी थी बिड, सुबह 9 बजे ही पोर्टल से लिंक गायब

अम्बाला8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बीडीपीओ ने टेंडर दोबारा लगाने की बात कही
  • ठेकेदारों ने बीडीपीओ से शिकायत की तो कलेरिकल मिस्टेक बताई गई

पंचायती राज विभाग में 4.55 करोड़ रुपए के ऑनलाइन टेंडर अलॉटमेंट प्रक्रिया में गड़बड़ी का आरोप लगा है। हालांकि, अधिकारियों ने इसे क्लेरिकल एरर बताया है और दोबारा से टेंडर लगाने की बात कही जा रही है। यह आरोप नारायणगढ़ क्षेत्र में रहने वाले ठेकेदारों ने लगाए हैं, लेकिन मामले में जांच से विभाग के अधिकारी पल्ला झाड़ रहे हैं। ठेकेदारों ने बताया कि बीडीपीओ अम्बाला-वन ने 24 अगस्त को 4.55 करोड़ रुपए के ई-टेंडर नोटिस की सूचना ई-मेल के जरिए चंडीगढ़ में पब्लिक रिलेशन एडवरटाइजमेंट ब्रांच के डायरेक्टर को भेजी थी। इसी ई-मेल में ब्लॉक-वन में होने वाले 7 विकास कार्याें की सूची दी गई।

सार्वजनिक सूचना दी गई थी कि कोई भी ठेकेदार या एजेंसी 14 सितंबर दोपहर 1 बजे तक अपनी बिड दाखिल कर सकती है। टेंडर से जुड़े कुछ ठेकेदारों का आरोप है कि यह टेंडर चहेते ठेकेदारों को देने की प्लानिंग की गई थी। इसलिए टेंडर बिड दाखिल करने के लिए कुछ देर पोर्टल का लिंक ओपन किया जाता है और तय समय से पहले ही उसे बंद कर दिया जाता है।

मंगलवार सुबह जब ठेकेदारों ने टेंडर भरने के लिए पोर्टल खोला तो टेंडर भरने का लिंक गायब था। आराेप है कि चहेते ठेकेदार अपनी बिड दाखिल कर चुके थे और दूसरा कोई ठेकेदार बिड दाखिल न कर पाए, इसलिए जानबूझ कर पोर्टल से टेंडर का लिंक हटा दिया गया। इसलिए नारायणगढ़ क्षेत्र के रहने वाले ठेकेदारों ने इसकी शिकायत पंचायत अधिकारी से की तो आनन-फानन में कैंसिल करने की बात कही गई।

गड़बड़ी की कोई बात नहीं, मेरे पास शिकायत नहीं आई
टेंडर का समय 1 बजे तक था, लेकिन क्लेरिकल गलती के कारण टेंडर कैंसिल किया गया है। कैंसिल किए गए सभी टेंडर को दोबारा से लगा दिया जाएगा। इसमें गड़बड़ी की कोई बात नहीं है। मेरे पास किसी ठेकेदार ने कोई शिकायत नहीं की है, बल्कि गलती की वजह से टेंडर कैंसिल किया है।-धर्मवीर सिंह, एसडीओ, बीडीपीओ, अम्बाला वन।

खबरें और भी हैं...