पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • Nisha Of Jagadhri Workshop Used To Prepare Documents At Home, Seals Were Recovered, Even Before She Went To Jail

श्योरटी बांड देने का मामला:जगाधरी वर्कशॉप की निशा घर पर तैयार करती थी दस्तावेज, मोहरें बरामद, पहले भी जेल जा चुकी

अम्बाला4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोपी सलीम को रिमांड के बाद जेल भेजा

फर्जी दस्तावेजों पर अंतरिम जमानत का श्योरिटी बांड देने के मामले में गिरफ्तार महिला निशा आर्य पृथ्वी नगर जगाधरी वर्कशाॅप स्थित अपने घर पर ही जमानत के लिए दस्तावेज तैयार करती थी। पुलिस ने रिमांड के दौरान निशा के घर से दस्तावेजों पर उपयोग की गई माेहरें बरामद की हैं। जांच अधिकारी एवं चौकी नंबर 5 के इंचार्ज सुलतान सिंह के मुताबिक इस मामले में वे यमुनानगर पुलिस के संपर्क में हैं।

ऐसे में शुक्रवार को निशा की खत्म हाे रही रिमांड अवधि बढ़ाने के लिए कोर्ट से मांग कर सकती है। वहीं, इस मामले में गिरफ्तार मोहम्मद सलीम को 3 दिन के रिमांड के बाद वीरवार को जेल भेज दिया गया। पुलिस जांच में सामने आया कि है कि आराेपी निशा का पति रेलवे वर्कशाॅप में चतुर्थ श्रेणी की नौकरी करता है। निशा फर्जी जमानतें देने के लिए दस्तावेज व जमानती उपलब्ध कराती थी।

जिसके बारे में अम्बाला में नकली नोट के साथ पकड़े गए अजीत कुमार उर्फ सोनू की पत्नी रणबीर कौर को पता चला था। रणबीर कौर को उसके पति की अंतरिम जमानत के लिए जमानती की जरूरत थी। फर्जी दस्तावेजों पर अंतरिम जमानत देने आया रेलवे वर्कशाॅप का मोहम्मद सलीम भी निशा के ही संपर्क में था। सिटी पुलिस ने मामले में कोर्ट की रीडर पूजा वर्मा की शिकायत पर आरोपी की पत्नी रणबीर कौर व सलीम के खिलाफ धोखाधड़ी की धाराओं में केस दर्ज किया था।

यह है पूरा मामला

यह मामला 11 अक्टूबर को जेएमआईसी विनोद कुमार ने पकड़ा था। 3 सितंबर को 26 हजार के नकली नोट के साथ पकड़े गए कमल विहार के अजीत की 9 अक्टूबर को एडिशनल सेशन जज कमल कांत शर्मा ने 6 दिन की अंतरिम जमानत मंजूर की थी। आरोपी की तरफ से 11 अक्टूबर को अंतरिम जमानत के लिए 80 हजार रुपए का श्योरिटी बोंड देने आए व्यक्ति ने मजिस्ट्रेट के सामने अपनी पहचान मोहन कुमार के तौर पर बताई। उसने आधार कार्ड, साल 2014-15 की जमाबंदी, 25 सितंबर 2020 का प्राॅपर्टी वेल्युएशन डाक्युमेंट व शपथ पत्र दिया। इस व्यक्ति की शिनाख्त अजीत की पत्नी रणबीर कौर ने की थी। कोर्ट को इन दस्तावेजों तब पर शक हो गया, जब जांच में पाया कि गांव फरखपुर, जगाधरी की जमाबंदी के दस्तावेज में कुल भूमि का उल्लेख नहीं है। जो आधार कार्ड की कॉपी दी थी उसमें फोटो सामान्य से बड़ी थी। कोर्ट ने जगाधरी के तहसीलदार को जमाबंदी की कॉपी भेज पड़ताल की तो श्योरिटी बांड देने आए आरोपी की पोल खुल गई। जिसके बाद मोहन कुमार बनकर आए व्यक्ति ने अपनी पहचान रेलवे वर्कशाॅप के मोहम्मद सलीम के तौर पर जाहिर की।

निशा ने केमिकल लगे चेक पर फर्जी साइन कर बैंक से निकाले थे एक लाख रुपए

निशा ने अपने भाई के साथ मिलकर यमुनानगर के पीएनबी से एक लाख रुपए निकलवा लिए थे। पीएनबी के चीफ मैनेजर पुनीत कुमार की शिकायत पर निशा व उसके भाई आशीष पर केस दर्ज है। शिकायत के मुताबिक बैंक में करनाल के गांव सालवन निवासी राजिंद्र का खाता है। 25 व 26 जून को बैंक में निशा आई। उसने अपना नाम समता देवी बताया और 2 दिन में बैंक में 50-50 हजार रुपए का चेक राजिंद्र के अकांउट का लगाया। चेक कैश होने के बाद निशा पैसे लेकर चली गई। दोनों चेक की जांच की तो मोबाइल नंबर अलग थे। जांच में पाया कि यह क्लोन तैयार किया गया है। महिला 27 जून को फिर बैंक आई तो उसे मौके पर पकड़ लिया गया था। पुलिस जांच में सामने आया था कि भाई-बहन केमिकल लगाकर चेक को नया बना देते थे। इसके बाद वे उस पर अपने हिसाब से नाम लिखते थे और अकाउंट समेत अन्य जानकारी दर्ज करते थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें