• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • On The Other Hand, There Was A Case Of Obstruction And Scuffle On 4 Brothers And Sisters In Government Duty, The Family Members Were Beaten Up By The Police, The DSP Assured Of Appropriate Action.

शहजादपुर थाने में हंगामा:4 भाई-बहनों पर सरकारी ड्यूटी में बाधा व हाथापाई का केस उधर, परिजनों का आरोप-पुलिस ने ही पीटा, डीएसपी ने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया

अम्बाला/शहजादपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नारायणगढ़ में पुलिस और पब्लिक की बात सुनते डीएसपी। - Dainik Bhaskar
नारायणगढ़ में पुलिस और पब्लिक की बात सुनते डीएसपी।
  • केस दर्ज होने के विरोध में थाने में किया धरना-प्रदर्शन

बुधवार देर रात शहजादपुर थाने में हुए हंगामे के बाद महिला पुलिस ने शहजादपुर के चार भाई बहनों के खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने और पुलिस कर्मियों से हाथापाई करने का केस दर्ज किया। जिसके विरोध में गुरुवार सुबह उनके परिजन शहजादपुर थाने में धरने पर बैठ गए।

परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने उनके बेटे- बेटियों की पिटाई की और उल्टा उन्हीं पर केस दर्ज कर दिया। परिजनों ने केस रद्द करने और थाना प्रभारी राजेश कुमार व महिला एएसआई कुलविंद्र कौर को सस्पेंड करने की मांग की। दिन भर चली गहमा-गहमी के बाद पुलिस ने हिरासत में लिए शिवानी, पूनम व हरिओम का मेडिकल करवाकर परिजनों को सौंप दिया।

शहजादपुर की शिवानी की शादी करीब पांच साल पहले कोड़वा के नवनीत शर्मा से हुई थी। कुछ दिनों बाद ही रिश्तों में दरार आ गई तो शिवानी मायके आकर रहने लगी थी। शिवानी के मुताबिक उनका सेक्शन 9 के तहत अदालत में मामला विचाराधीन है। अदालत के आदेश पर उसे ससुराल से महीने का खर्च मिलता है। दो दिन पहले उसके देवर की शादी थी। शिवानी इस नीयत से कोड़वा गई थी कि शायद इस माहौल में उसे भी ससुराल वाले अपना लें। हालांकि मामला उल्टा पड़ गया। ससुराल वालों ने पुलिस को बुलाकर शिवानी पर झगड़ा करने के आरोप लगा। जिसके बाद मामला देर रात थाने पहुंच गया था और वहीं हंगामा हुआ।

गुरुवार को शिवानी के पक्ष में सर्व समाज के मौजिज लोग इकट्ठा हुए। मामला हाथ से निकलते देख डीएसपी अनिल कुमार मौके पर पहुंच गए। डीएसपी ने थाने में मौजूद लोगों से बैठकर बात करने को कहा। डीएसपी ने दोनों पक्षों को सुना। शिवानी व उसके परिजनों का आरोप है कि उनके साथ बदसलूकी और मारपीट की गई है। जबकि पुलिस का कहना है कि उन्हें गालियां दी गई और हाथापाई की गई है। डीएसपी ने दोनों पक्षों की शिकायत पर उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। जिसके बाद मामला शांत हुआ है।

खबरें और भी हैं...