पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

समस्या:खोजकीपुर रोड पर दुकानों के आगे पेड़ों से लोग परेशान, शिकायत के बावजूद कार्रवाई नहीं

अम्बालाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रभु प्रेम पुरम में खोजकीपुर रोड पर दुकानों के आगे लगे सफेदे के पेड़ दुकानदारों के लिए परेशानी का कारण बन गए हैं। दुकानदारों द्वारा कई बार शिकायत करने के बावजूद भी अब तक कार्रवाई नहीं हुई है। क्षेत्रवासी अनिल, नरेंद्र, सुरेंद्र, सुरजीत आदि ने बताया कि पेड़ों की वजह से कई बार हादसे भी हो चुके हैं। टहनियां तेज हवाओं में गिर जाती है जिससे भारी नुकसान तक हो चुका है।

इसके अलावा कई पेड़ अब दुकानों को छू चुके हैं जिससे बरसातों व तेज हवाओं के समय खतरा बना रहता है। मामले की शिकायत नगर परिषद व वन विभाग से की गई थी जिस पर वन विभाग के स्टाफ ने मौके पर पेड़ों के नंबरों को नोट भी किया, मगर इसके बाद कोई कार्रवाई नहीं की है। क्षेत्रवासियों ने रोड किनारे लगे पेड़ों को कटवाने की मांग की है।

सड़क हादसों के सदर थाने में 2 और नारायणगढ़ थाने में एक केस दर्ज

थाना सदर व नारायणगढ़ थाना क्षेत्र में हुई सड़क दुर्घटनाओं के मामले में पुलिस ने 3 केस दर्ज किए हैं। एक मामले में कैंट रेलवे कॉलोनी के रहने वाले ओमप्रकाश ने शिकायत दी थी कि 23 अक्टूबर को हिसार रोड बाईपास पर गांव लोहगढ़ के पास कार चालक झांसा निवासी कृष्ण लाल ने लापरवाही व तेज गति से उसकी बाइक में टक्कर मारी, जिससे वह घायल हो गया। इस मामले में आरोपी कार चालक पर केस दर्ज किया गया है। वहीं, थाना सदर में मुजफ्फरा के कुलवंत सिंह ने शिकायत दी थी कि 20 अक्टूबर को धुरकड़ा के पास ट्रैक्टर चालक ने लापरवाही से उसकी एक्टिवा में टक्कर मारी।

हादसे में उसे चोटें आईं। आरोपी ट्रैक्टर चालक की पहचान नहीं हुई। इसी प्रकार थाना नारायणगढ़ में नारायणगढ़ के गुलशन ने शिकायत दी थी कि 22 अक्टूबर को काला अम्ब के हरियाली ढाबा के पास कार चालक ने लापरवाही से उसकी बाइक में टक्कर मारी। कार चालक के खिलाफ नारायणगढ़ थाना में केस दर्ज किया गया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें