प्रदर्शन:हल्ला बोल प्रदर्शन काे लेकर चलाया जनसंपर्क अभियान

अम्बालाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिटी में मांगाें काे लेकर नारेबाजी करते सर्व कर्मचारी संघ के कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
सिटी में मांगाें काे लेकर नारेबाजी करते सर्व कर्मचारी संघ के कर्मचारी।
  • कार्यालयाें में सीट-टू-सीट जाकर कर्मचारियों को मांगपत्र दे प्रदर्शन में भाग लेने का निमंत्रण दिया

सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के नेताओं ने 12 दिसंबर को जिला मुख्यालयों पर होने वाले हल्ला बोल प्रदर्शन को सफल बनाने के लिए विभिन्न कार्यालयाें में जनसंपर्क अभियान चलाया। सीट-टू-सीट जाकर मांगपत्र वितरित कर कर्मचारियों को हल्ला बोल प्रदर्शन में भाग लेने का निमंत्रण दिया।

एसकेएस नेताओं ने रोडवेज वर्कशाॅप में 3 साल से काम कर रहे कच्चे कर्मचारियों का टेक्निकल पद बदलकर वेतन कम करने के महाप्रबंधक के फैसले की निंदा करते हुए कच्चे कर्मियों को पूरा वेतन देने की मांग की। राज्य महासचिव सतीश सेठी, केंद्रीय कमेटी सदस्य नायब सिंह, जिला सचिव महावीर पाई व पीडब्ल्यूडी मैकेनिकल वर्कर यूनियन के राज्य सचिव रविंद्र शर्मा जनसंपर्क अभियान में शामिल थे।

महावीर पाई ने कहा कि 12 दिसंबर को सुबह 10 बजे कर्मचारी हल्ला बोल प्रदर्शन के लिए बस स्टैंड के सामने महावीर पार्क में एकत्रित होकर सभा करेंगे, जिसके बाद शहर में सरकार की कर्मचारी व जनविरोधी नीतियों के विरोध में शांतिपूर्वक प्रदर्शन किया जाएगा।

कर्मियों की मुख्य मांगें

नौकरी से हटाए गए सभी पक्के व कच्चे कर्मियों व शिक्षकों की सेवाएं बहाल की जाएं। सभी कच्चे कर्मियों को कौशल रोजगार निगम की बजाए विभाग के पे-रोल पर लेकर सेवा सुरक्षा व पक्का किया जाए। एनपीएस रद्द कर पुरानी पेंशन बहाल की जाए। लिपिक को 35400 रुपए वेतन देने। ग्रुप डी के कर्मियों का प्रमोशन कोटा 20 से बढ़ाकर 50 प्रतिशत करने। निजीकरण पर रोक लगाकर जन सुविधाओं के विभागों का विस्तार कर बेरोजगारों को पक्की नौकरी देने। रिटायर्ड कर्मियों को पंजाब के समान उम्र बढ़ने पर पेंशन बढ़ोतरी करना शामिल है।

खबरें और भी हैं...