100 साल पुराने मंदिर में चोरी:श्री राम जानकी टेंपल में लगे 3 गेटों के ताले तोड़े, चौथी बार हुई घटना पर भक्तों ने जताया रोष

अंबाला5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्राचीन श्री राम जानकी मंदिर का टूटा हुआ गुल्लक दिखाते हुए महंत व अन्य। - Dainik Bhaskar
प्राचीन श्री राम जानकी मंदिर का टूटा हुआ गुल्लक दिखाते हुए महंत व अन्य।

हरियाणा के अंबाला शहर में करीब 100 साल पुराने श्री राम जानकी मंदिर में सोमवार देररात चोरी हो गई। अंबाला कैंट रामबाग के पास बने मंदिर में चोर 3 मुख्य गेटों के ताले तोड़कर दाखिल हुए। मंदिर को पूरी तरह से खंगालने के बाद एक 40 तो दूसरा 20 किलो का गुल्लक उठाकर ले गया। कुछ दूरी पर ले जाने के बाद चोरों ने गुल्लक के ताले तोड़ते हुए हजारों रुपए की नकदी निकाल ली। मंदिर के महंत बाबा कल्याण दास को सुबह चोरी का पता लगा। चोरी की वारदात पर मंदिर में आने वाले भक्तों ने रोष जताया।

अंबाला कैंट का प्राचीन श्री राम जानकी मंदिर
अंबाला कैंट का प्राचीन श्री राम जानकी मंदिर

उनका कहना था कि चोरी की वारदातें लगातार बढ़ती जा रही है। इलाके में पुलिस को गश्त बढ़ानी चाहिए। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच की। बताया जाता है कि मंदिर में यह चोरी चौथी बार हुई है। पहले ही चोरियों को लेकर मंदिर में सुरक्षा प्रबंधकों को देखते हुए तीन दरवाजे लगाए गए है। कुछ-कुछ दूरी पर लगे सभी दरवाजों पर देररात नियमित तौर पर ताले लगाए गए थे।

मंदिर के मुख्य गेट का टूटा ताला दिखाते हुए महंत व भक्त
मंदिर के मुख्य गेट का टूटा ताला दिखाते हुए महंत व भक्त

बाबा कल्याण दास ने बताया कि वह सुबह 5 बजे मंदिर में पहुंचे तो मुख्य गेट के ताले टूटे देखे। भीतर जाकर देखा तो पूरे मंदिर का सामान बिखरा हुआ था। जो दान पात्र थे, वे भी अपनी जगह पर नहीं थे। भारी भरकम दानपात्रों को ही चोर अपने साथ उठाकर ले गए थे। खबर फैलते ही भक्त मौके पर पहुंचे। जब मंदिर के आसपास भक्तों ने छानबीन की तो कुछ ही दूरी पर दोनों गुल्लक टूटे मिले और राशि गायब थी। महंत कल्याण दास ने बताया कि गुल्लक में करीब 40 हजार रुपए की राशि थी।

खबरें और भी हैं...