अंबाला की टांगरी नदी का जलस्तर घटा:आसपास रहने वाले लोगों को मिली राहत, लेकिन चिंता अभी भी बरकरार

अंबालाएक महीने पहले

हरियाणा के अंबाला जिले में बह रही टांगरी नदी का जलस्तर आखिरकार घट ही गया। मंगलवार सुबह नदी में एक फुट से भी कम पानी नजर आया। नदी के घटते जलस्तर से जहां प्रशासन की मुश्किलें कम हुईं। वहीं आसपास के बाशिंदों ने राहत की सांस ली, लेकिन चिंता अभी भी बरकरार है।

टांगरी नदी का घटा जलस्तर।
टांगरी नदी का घटा जलस्तर।

फिर से उफान पर आने की संभावना

मौसम विभाग ने प्रदेशभर में 6 व 7 जुलाई को भारी बारिश होने की संभावना जताई है। कई क्षेत्रों में अलर्ट भी जारी किया गया है। आशंका जताई जा रही है कि आगामी 2 दिनों में फिर से टांगरी नदी उफान पर आ सकती है।

नदी के पास तैनात की JCB मशीन

जिला प्रशासन की मुश्किलें फिलहाल थोड़ी कम हुई हैं, लेकिन आगामी दिनों में दोबारा जलस्तर बढ़ने के संभावना को देखते हुए सिंचाई विभाग और नगर परिषद चौकसी बरते हुए हैं। अधिकारी सुबह-शाम स्थिति का जायजा ले रहे हैं है। टांगरी नदी के आसपास JCB मशीन खड़ी की गई हैं, ताकि बांध टूटने की स्थिति में कंट्रोल किया जा सके।

नदी के पास स्थित पेट्रोल पंप पर खड़ी जेसीबी मशीन।
नदी के पास स्थित पेट्रोल पंप पर खड़ी जेसीबी मशीन।

10 हजार क्यूसिक तक पहुंच गया था जलस्तर

पहाड़ी क्षेत्र में बारिश के बाद टांगरी नदी उफान पर आ गई थी। जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया था। प्रशासन ने नदी के आसपास बसे सैकड़ों परिवारों को पलायन करने की हिदायत दी थी। नदी में जलस्तर 10 हजार क्यूसिक तक पहुंच गया था। कई जगह से बांध टूटने के कगार पर थे। प्रशासन ने तुरंत JCB मशीनों से बिगड़ी स्थिति पर काबू पाया।