पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खेलो इंडिया यूथ गेम्स के लिए मेजबान कितने तैयार:साई टीम ने कहा- स्टेडियम में 5-6 माह का काम बाकी पीडब्ल्यूडी अधिकारी बोले- 31 मार्च तक तैयार कर देंगे

अम्बाला13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दिल्ली से आई साई की टेक्निकल टीम ने किया स्टेडियम का निरीक्षण

साल के अंत में होने वाले खेलो इंडिया यूथ गेम्स के लिए अम्बाला कितना तैयार है, इसे जांचने के लिए मंगलवार शाम काे वार हीरोज मेमोरियल स्टेडियम में स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (साई) की 9 सदस्यीय टीम ने निरीक्षण किया। टीम ने यहां निर्माणाधीन प्रोजेक्टों की जानकारी ली। साई के टेक्निकल अधिकारियाें ने हर प्राेजेक्ट का बारीकी से निरीक्षण किया।

टीम को स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि फुटबाल स्टेडियम और स्वीमिंग पूल का निर्माण 31 मार्च तक पूरा किया जाना है। एक घंटे तक निरीक्षण के बाद टीम का एक ही सवाल था कि क्या तय समय में स्टेडियम तैयार हो जाएगा। साई के टेक्निकल अधिकारियों ने कहा कि अभी निर्माण ही बाकि है।

इसके बाद फिनिशिंग वर्क होना है, जिसमें ज्यादा समय लगेगा। राहत की बात यह रही कि साई टीम को प्रतियोगिता से 4 माह पहले सबकुछ ओके चाहिए, मगर मौके पर मौजूद पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन निशांत ने कहा कि 31 मार्च तक हर हाल में फुटबाल स्टेडियम का निर्माण कार्य पूरा किया जाएगा।

इसके लिए टाइम लाइन सेट कर दी गई है। वह स्वयं प्रतिदिन की वर्किंग को मॉनिटर कर रहे हैं। इससे पहले शाम सवा 4 बजे स्टेडियम पहुंचे साई के सीनियर डायरेक्टर सत्य नारायण मीणा, साई की गेम्स टेक्निकल कंडक्ट कमेटी के चेयरमैन राजेंद्र सिंह का कैंट एसडीएम ममता, खेल विभाग के डिप्टी डायरेक्टर अरुणकांत, डीएसओ एन सत्यन ने स्वागत किया। बता दें कि खेलो इंडिया यूथ गेम्स नवंबर-दिसंबर में होने हैं जिसकी मेजबानी हरियाणा के पास है। अम्बाला को फुटबाल, स्वीमिंग, जिम्नास्टिक और बैडमिंटन खेलों के लिए चुना गया है।

स्वीमिंग पूल; अभी वार्मअप पूल बनाया जा रहा
साई टीम ने खेल अधिकारियों के साथ ऑल वेटर स्वीमिंग पूल का जायजा लिया। यहां उन्होंने पूल निर्माण कार्य की टेक्निकल जानकारी ली। निर्माण एजेंसी ने बताया कि मेन पूल के साथ वार्मअप पूल बनाया जा रहा है। सभी कार्य 31 मार्च तक पूरे कर लिए जाएंगे। मेन पूल की फाउंडेशन, फीलिंग, बेड का कार्य पूरा हो चुका है। टीम ने इस कार्य पर संतुष्टि जताई।

टीम सदस्य निरीक्षण के समय यह बोले

जिम्नास्टिक हाॅल: साई टीम ने जिम्नास्टिक हॉल का 15 मिनट तक निरीक्षण किया और संतुष्टि जताई। चेयरमैन राजेंद्र सिंह ने कहा कि हॉल में तो चाहे कल से ही मुकाबले कराए जा सकते हैं। खेल अधिकारियों ने कहा कि हॉल पिछले साल ही बनकर तैयार हुआ है जोकि सेंट्रलाइज्ड एसी है। यहां जिम्नास्टिक के नए उपकरण लगाए गए हैं और 500 दर्शकों के बैठने की क्षमता है।

कमी: टीम ने वार्मअप हॉल के बारे में पूछा तो खेल अधिकारी ठीक से कुछ बता न सके। फिर पीडब्ल्यूडी अधिकारियों ने बताया कि वार्मअप हॉल बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जल्द वार्मअप जिम्नास्टिक हॉल भी तैयार होगा।

फुटबाॅल स्टेडियम
साई टीम ने फुटबाल स्टेडियम का जायजा लिया। पीडब्ल्यूडी अधिकारियों ने बताया कि स्टेडियम में 3500 दर्शकों के बैठने की क्षमता होगी। टीम ने पार्किंग, खिलाड़ियों के चेंजिंग रूम, फल्ड लाइट्स का जायजा लिया। टीम को बताया कि स्टेडियम 31 मार्च तक तैयार किया जाएगा।

कमी: तकनीकी अधिकारियों ने कहा कि स्टेडियम में काफी कार्य बाकी है। उन्हें नहीं लगता कि 31 मार्च तक यह काम पूरा हो जाएगा। स्टेडियम के एंट्री गेट के आगे का एरिया उखड़ा हुआ है इसे फिनिशिंग टच देने में ज्यादा समय लग सकता है। सिटी सेक्टर-10 स्टेडियम के फुटबाल ग्राउंड में टीम निरीक्षण के लिए नहीं गई, पहले इसे प्रतियोगिता के लिए प्रस्तावित किया था, मगर यहां सिंथेटिक टर्फ न होने से टीम ने इसे प्रतियोगिता के लिए नहीं चुना।

बैडमिंटन हॉल: स्टेडियम के बाद टीम ने आनंद मेमोरियल बैडमिंटन हॉल का निरीक्षण किया। बैडमिंटन के लिए यहां पर 4 कोर्ट बने हुए हैं। साई टीम ने हॉल की पूरी लाइट्स ऑन कर इसे चेक किया। इसके बाद इन कोर्ट पर संतुष्टि जाहिर की। प्रतियोगिता के लिए 3 कोर्ट चाहिए, मगर यहां 4 कोर्ट बने हैं।

कमी: बैडमिंटन हॉल में लाइट गुल होने पर बैकअप का कोई प्रोविजन नहीं है। टीम ने इस पाॅइंट को नोट किया। खेल अधिकारियों ने बताया कि प्रतियोगिता के लिए यहां जनरेटर लगाया जाएगा जिससे प्रतियोगिता में किसी प्रकार का विघन नहीं पड़ेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser