अंबाला में कोरोना के 2 नए मामले:पांच दिन से बीमार बुजुर्ग दंपती संक्रमित, नौकरानी सहित मिलने वालों की होगी सैंपलिंग

अंबालाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना संक्रमण की प्रतिकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
कोरोना संक्रमण की प्रतिकात्मक फोटो

हरियाणा के अंबाला में पांच दिन राहत के बाद मंगलवार को कोरोना के दो नए मरीज मिले। संक्रमित बुजुर्ग दंपती अंबाला कैंट के रहने वाले हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक 5 दिन से बुजुर्ग दपंती बुखार से ग्रस्त थे। सिविल अस्पताल में 2 दिन पहले उन्होंने RT-PCR टेस्ट करवाया था। टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें होम क्वारंटीन कर दिया है। जरूरी दवाएं देने के साथ-साथ उनके घर को सैनिटाइज करवाया जाएगा। अभी तक बुजुर्ग दपंती की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है।

कोरोना से बचाव का टीका लगाती हुई स्वास्थ्य कर्मी।
कोरोना से बचाव का टीका लगाती हुई स्वास्थ्य कर्मी।

टेस्ट देते समय बुजुर्ग ने बताया था कि वह अकेले रहते हैं। नौकरानी काम करने के लिए आती है। स्वास्थ्य विभाग अब बुजुर्ग दंपती के संपर्क में आने वाले लोगों के साथ-साथ काम करने वाली नौकरानी के भी सैंपल लेगा। पता लगाने का प्रयास किया जाएगा कि आखिर कोई ओर तो कोरोना से संक्रमित नहीं है। समय रहते कोरोना को फैलने से रोका जा सके। अब अंबाला में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 4 हो गई है। इससे पहले 2 दिसंबर को दो मरीज सामने आए थे। एक अंबाला कैंट सिविल अस्पताल के डॉक्टर है तो दूसरे डॉक्टर की पत्नी शामिल थी। होम क्वारंटीन करने के बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी लगातार उन पर नजर बनाए हुए है। 14 दिन पूरे होने के बाद दोबारा से सैंपलिंग ली जाएगी।

मंगलवार को 8274 लोगों को लगा कोरोना से बचाव का टीका

कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिले में टीकाकरण जोरों पर चल रहा है। मंगलवार को 8274 लोगों को जिलेभर में कोरोना से बचाव का टीका लगा। अंबाला में अब तक कुल 30154 लोग संक्रमित आ चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 16 लाख 15 हजार 191 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। 8 लाख 94 हजार 294 को पहली और 7 लाख 20 हजार 897 को दूसरी डोज लगाई गई। कुल सैंपलिंग की संख्या 6 लाख 93 हजार 450 हो गई है, जबकि कोरोना से मरने वालों की संख्या 509 हो चुकी है।

वैक्सीनेशन सेंटर पर लगी लंबी-लंबी लाइनें।
वैक्सीनेशन सेंटर पर लगी लंबी-लंबी लाइनें।

वैक्सीनेशन सेंटरों पर टीका लगवाने वालों की लग रही लाइनें

कोरोना के एक बार फिर मामले सामने आने पर वैक्सीनेशन करवाने वालों की संख्या में इजाफा हुआ है। कोरोना के मरीज न आने पर वैक्सीनेशन सेंटरों पर कुछ ही लोग आते थे, लेकिन अब लंबी-लंबी लाइनें लगनी शुरू हो गई है। ड्यूटी टाइमिंग से पहले और दोपहर के समय लोगों की संख्या ज्यादा रहती है। इसके अलावा दूसरी डोज का मोह छोड़ने वाले भी अब सेंटरों पर पहुंचने लगे हैं।