पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पीएम स्वनिधि स्कीम:स्ट्रीट वेंडर्स के फोन बंद, घर का पता सही नहीं

अम्बाला13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में 500 से अधिक स्ट्रीट वेंडर्स के नंबर व पते गलत मिले
  • विभागीय अधिकारियाें के अनुसार- लापता स्ट्रीट वेंडर्स में से ज्यादातर ऐसे जाे काेराेना काल में यूपी-बिहार जा चुके

रुद्राक्ष कंपनी ने तो जिला में स्ट्रीट वेंडर्स का सर्वे कर दिया और उनके प्रोविजनल सर्टिफिकेट भी बनाकर भेज दिए। जब नगर निगम व परिषदों के पास इन्हें वितरित की बारी आई तो उनके कर्मचारी भी दंग रहे गए। कंपनी ने स्ट्रीट वेंडर्स के जाे फोन नंबर लिए था वह बंद हैं। घर का पता ढूंढ़ने पर भी नहीं मिल रहा।

आसपास पूछा तो पता चला कि इस नाम का यहां कोई नहीं रहता। जिले में लगभग 550 ऐसे स्ट्रीट वेंडर्स ऐसे हैं जाे काेराेना काल में अम्बाला छाेड़कर अन्य प्रदेशाें में जा चुके हैं। इसमें सिटी के ही लगभग 350 स्ट्रीट वेंडर्स हैं। अब स्थानीय निकाय विभाग के कर्मचारी उन्हें ढूंढने में लगे हैं। सोमवार को डीसी अशोक शर्मा ने भी वीसी से प्रधानमंत्री स्व निधि योजना के तहत स्ट्रीट वेंडरों को जारी किए गए प्रोविजनल सर्टिफिकेट की जानकारी ली और संबंधित अधिकारियों को लंबित मामलों को तुरंत समाधान करते हुए योग्य लाभार्थियों को इसका लाभ प्रदान करने के निर्देश दिए। डीसी ने कहा कि 16 सितंबर से पहले स्ट्रीट वेंडरों की जो भी पेंडेंसी है, उसे तुरंत दूर करते हुए उसकी रिपोर्ट डीसी कार्यालय में देना सुनिश्चित करें।

यह है स्ट्रीट वेंडर्स का स्टेट्स : सिटी नगर निगम में इस योजना के तहत 1366 स्ट्रीट वेंडरों को प्रोविजनल सर्टिफिकेट जारी किए गए। लगभग 594 नए स्ट्रीट वेंडरों ने भी आवेदन देकर योजना का लाभ लेने की इच्छा जताई है। इनमें से 501 स्ट्रीट वेंडरों की वेरिफिकेशन करते हुए इसे अपलोड करने का कार्य किया जा रहा है। कैंट नगर परिषद में 898 लाभार्थियों में से 598 स्ट्रीट वेंडरों को प्रोविजनल सर्टिफिकेट जारी किए जा चुके हैं। कैंट में 380 नए स्ट्रीट वेंडरों ने आवेदन किया है, जिनमें से 255 की वेरिफिकेशन की जा चुकी है। बराड़ा नगर पालिका के तहत 200 स्ट्रीट वेंडरों में से 172 को प्रोविजनल सर्टिफिकेट जारी किया जा चुका है, शेष 28 वेंडरों की प्रक्रिया पर कार्य जारी है। नारायणगढ़ नगर पालिका में भी 197 में से 144 को सर्टिफिकेट जारी किया जा चुका है।

यह है योजना

डीसी अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि रेहड़ी फड़ी वालों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए पीएम स्व निधि स्कीम चलाई गई है तथा प्रार्थी 31 मार्च 2022 तक इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है। उन्होंने बताया कि इस स्कीम के तहत स्ट्रीट वेंडरों (रेहड़ी एवं फड़ी) को प्रारंभिक कार्य करने के लिए 10 हजार रुपए ऋण बिना गारंटी के प्रदान किया जाता है। यह ऋण समय से पहले वापस करने पर 7 प्रतिशत ब्याज पर सब्सिडी दी जाती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें