पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • Students Are Asking Questions From Colleges About Final Year Exams, The Principal Said KU Or State Government Should Take Decision And Clarify The Situation

असमंजस:छात्र अंतिम वर्ष की परीक्षाएं होने को लेकर कॉलेजों से कर रहे सवाल, प्रिंसिपल बोले- केयू या प्रदेश सरकार निर्णय लेकर स्थिति स्पष्ट करे

अम्बाला9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • यूजीसी सितंबर में परीक्षा कराने को लेकर अड़ी

कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी और प्रदेश सरकार की तरफ से अंतिम वर्ष की परीक्षाएं कराने को लेकर अभी तक अपनी स्थिति स्पष्ट नहीं की है। इससे अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए मुश्किल खड़ी हो गई हैं। छात्र परीक्षा होनी है या नहीं इसे लेकर अपने कॉलेजों से सवाल कर रहे हैं। लेकिन यूनिवर्सिटी की तरफ से इस मामले में स्थिति साफ नहीं होने पर उनके पास भी कोई जवाब नहीं है।

कॉलेज प्रिंसिपल का भी मानना है कि यूनिवर्सिटी या सरकार इस मामले में पहल कर परीक्षा कराने या न कराने को लेकर अपनी स्थिति स्पष्ट करे। इससे छात्रों में बनी दुविधा की स्थिति समाप्त होगी। वहीं, यूनिवर्सिटी ग्रांट कमिशन (यूजीसी) ने अंतिम वर्ष की परीक्षाओं को लेकर अपनी स्थिति सुप्रीम कोर्ट में स्पष्ट करते हुए बताया कि कोई भी ये धारणा न बनाए की मामला कोर्ट में है तो परीक्षाएं नहीं होंगी। परीक्षाएं अपने तय समय पर होंगी।

अंतिम वर्ष के छात्र हिमांशु बंसल, सुमित मलन, योगेश चौधरी, कशिश गांधी और छात्राओं भावना राणा, प्रियंका सिंह का कहना है कि परीक्षाओं को लेकर बार-बार बदलती गाइडलाइंस से हमारी मनोस्थिति प्रभावित हो रही है। तैयारी करें या न करें, फोकस नहीं कर पा रहे। पहले परीक्षाओं को लेकर अनिश्चतता थी। फिर परीक्षाओं को लेकर डेट दी गई।

उसके बाद जब हम तैयारी में जुटे थे तो परीक्षा रद्द कर सभी को पास करने का फाॅर्मूला तैयार किया जाने लगा। इसी बीच यूजीसी ने 6 जुलाई को फिर से गाइडलाइन जारी कर सितंबर में परीक्षा की गाइडलाइंस जारी कर दी। लेकिन इस संबंध में अभी तक भी यूनिवर्सिटी और सरकार की तरफ से कोई निर्णय नहीं लिया गया है।

दुविधा में परीक्षाओं की तैयारियां नहीं होतीः डॉ. अनुपमा आर्य
आर्य गर्ल्स कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ. अनुपमा आर्य ने बताया कि छात्र ही नहीं परीक्षाओं को लेकर प्रिंसिपल भी दुविधा की स्थिति में हैं। एग्जाम होंगे भी या नहीं, होंगे तो क्या फार्मेट रहने वाला है, किस तरह व्यवस्था रहने वाली है। असमंजस कि स्थिति में एग्जाम की तैयारियां नहीं हुआ करती। सरकार या यूनिवर्सिटी को इस संबंध में कुछ न कुछ दिशा निर्देश जारी करने चाहिए। ताकी दुविधा की स्थिति दूर हो। छात्र और अभिभावक भी एग्जाम की स्थिति को लेकर हमसे सवाल कर रहे हैं।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें