पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब रियायतें ज्यादा:कपड़ा मार्केट और साइंस इंडस्ट्री शाम तक खुलेगी, ऑड-ईवन से दुकानदार खुश नहीं

अम्बाला9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अम्बाला सिटी| रविवार को जैसे ही मंदिर खुलने के आदेश आए तो सिटी के दुखभंजनी काली माता मंदिर में सफाई शुरू हो गई। - Dainik Bhaskar
अम्बाला सिटी| रविवार को जैसे ही मंदिर खुलने के आदेश आए तो सिटी के दुखभंजनी काली माता मंदिर में सफाई शुरू हो गई।
  • संक्रमण कम हुआ तो 35 दिन बाद दुकानदारों को मिली बड़ी राहत
  • 3 मई को लॉकडाउन के पहले दिन जिले में 317 केस थे, रविवार को 42 मिले

जैसे-जैसे कोरोना केस कम होते गए वैसे-वैसे दुकानदारों को राहत मिलती रही। 35 दिन बाद सरकार ने सोमवार से दुकानदारों को बड़ी राहत दी है। मार्केट ओड-इवन के हिसाब से खुलेगी, लेकिन समय सुबह 9 से शाम 6 बजे तक कर दिया गया है। इसके लिए डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट-कम-डीसी विक्रम सिंह ने आदेश जारी किए हैं।

सबसे ज्यादा फायदा अम्बाला की होलसेल कपड़ा मार्केट को मिला है। यहां पंजाब, हिमाचल, यूपी व उत्तराखंड से ग्राहक आते हैं, लेकिन पहले समय कम होने के कारण कपड़ा मार्केट के दुकानदार भी आदेशों से ज्यादा खुश नहीं थे, लेकिन अब 3 घंटे ज्यादा दुकानें खुलने के कारण उन्हें बड़ी राहत मिली है। ट्विन सिटी के मार्केट एसोसिएशन ने इस निर्णय को सही ठहराया।

रेस्तरां और बार (होटल और मॉल सहित) को 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता के साथ सुबह 10 से शाम 8 बजे तक खोलने की अनुमति दी गई है। वह भी पर सामाजिक दूरियों के साथ।

मंदिरों में सफाई हुई, भीड़ से बचना होगा

डीएम के आदेश के बाद मंदिरों में अब श्रद्धालु दर्शन कर सकेंगे। इसलिए आदेश आने के बाद से मंदिरों में सफाई शुरू हो गई। मंदिरों व प्रार्थना घरों में एक बार में 21 से ज्यादा व्यक्ति एकत्रित नहीं हो सकते। सिटी में जैन काॅलेज के समीप काली माता मंदिर के पुजारी पंकज शर्मा ने कहा कि प्रशासन की गाइडलाइन के तहत ही मंदिर में भक्तों को प्रवेश दिया जाएगा।

शादी में 21 लोग शामिल हो सकेंगे, बारात की मंजूरी नहीं

अभी तक शादी में 11 लोग ही एकत्रित हो सकते थे, लेकिन डीएम ने अब शादियों में 21 लोगों के शामिल होने की मंजूरी दी है। शादी में बारात लेकर नहीं जा सकेंगे। शादी भी घर या कोर्ट में कर सकते हैं। इसके अलावा अंतिम संस्कार में भी 21 लोग शामिल हो सकते हैं। अगर दोनों के अलावा और कोई आयोजन करना है तो उसके लिए 50 लोगों की संख्या होनी चाहिए। अगर इससे ज्यादा संख्या होगी तो उससे पहले जिला प्रशासन से अनुमति लेना आवश्यक है। शाॅपिंग माॅल भी सुबह 10 से रात 8 बजे तक खुल सकेंगे।

रेगुलर खुलनी चाहिए कपड़ा मार्केट की दुकानें : बतरा

दि होलसेल क्लाॅथ मार्केट एसोसिएशन के अध्यक्ष विशाल बतरा ने कहा कि 6 बजे तक का समय मिलने से बड़ी राहत मिली है। बाहर से जो व्यापारी या लोग मार्केट में आते हैं वह अब आराम से कपड़ा पसंद कर सकेंगे। अगर सरकार ओड-इवन की बजाए मार्केट को रेगुलर खोलने की अनुमति देती तो व्यापारियों को और भी ज्यादा बड़ी राहत मिलती, क्योंकि स्टाफ की सैलरी के अलावा अन्य खर्चे हैं। बैंक की लिमिट व अन्य लोन के लिए व्यापारियों को कोई राहत नहीं मिली है।

समय ज्यादा होने से ग्राहक ज्यादा आएंगे : उमेश

साइंटिफिक मेन्युफेक्चरर एंड एक्सपोर्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष उमेश गुप्ता ने कहा कि सरकार ने दुकानों का समय बढ़ाकर सभी वर्गों को लाभ पहुंचाया है। साइंस इंडस्ट्री को इससे फायदा होगा। साइंस ट्रेडर्स पहले 3 बजे तक दुकानें खोल रहे थे और इस अवधि में कम ग्राहक आने के कारण दुकानदारी प्रभावित हो रही थी। मगर अब ज्यादा समय होने पर ज्यादा ग्राहक आ सकेंगे।

एक महीने में कम हुआ कोरोना संक्रमण

3 मई को जिस दिन लॉकडाउन शुरू हुआ था उस दिन अम्बाला में 317 केस पॉजिटिव थे। इसके बाद पॉजिटिव केसों की संख्या 600 का आंकड़ा पार कर गई थी। अब राहत की बात यह है कि अम्बाला में कोरोना संक्रमण तेजी से कम हो रहा है। रविवार को 42 केस पॉजिटिव आए हैं। चिंता का विषय यह भी है कि जैसे-जैसे लॉकडाउन खुल रहा है वैसे-वैसे लोग सोशल डिस्टेंसिंग का दायरा तोड़ रहे हैं और अब लोगों के चेहरे से मास्क भी उतरने शुरू हो गए हैं।

खबरें और भी हैं...