• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • The Mahapanchayat Was Sitting At The Main Gate Of Sugar Mill Banaudi, The SDM And Mill Officials Arrived After Three Hours And Gave Assurance

चीनी मिल के बाहर 4 घंटे धरना:बनौंदी मिल के मुख्य गेट पर दरी बिछा बैठी महापंचायत, अफसरों के 31 दिसंबर तक भुगतान पर माने

अंबाला7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नारायणगढ़ में धरने पर बैठे किसानों से बातचीत करते हुए एसडीएम। - Dainik Bhaskar
नारायणगढ़ में धरने पर बैठे किसानों से बातचीत करते हुए एसडीएम।

नारायणगढ़ स्थित बनौंदी चीनी मिल मुख्य गेट पर किसानों ने चार घंटे तक धरना दिया। किसानों का चीनी मिल में पिछले साल का करोड़ों रुपए बकाया है। किसानों से बात करने पहुंचे एसडीएम और मिल प्रबंधक ने आश्वासन दिया कि 31 दिसंबर तक उनका बकाया भुगतान हो जाएगा। किसानों ने चेतावनी दी कि मांग पूरी नहीं हुई तो अधिकारियों को बंधक बना लेंगे।

धरनास्थल पर किसानों को जानकारी देते एसडीएम।
धरनास्थल पर किसानों को जानकारी देते एसडीएम।

संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले किसानों ने गुरुवार को बनौंदी चीनी मिल के सामने धरना दिया। धरने की अगुवाई भाकियू (चढूनी) के जिलाध्यक्ष मलकीत सिंह, टिकैत ग्रुप के जिलाध्यक्ष बलदेव सिंह और गन्ना संघर्ष समिति के प्रदेशाध्यक्ष विनोद ने की। किसानों की मांग थी कि मिल की तरफ बकाया करोड़ों रुपए का जल्द भुगतान किया जाए। साथ ही जो नया गन्ना किसान डाल रहे हैं, उसका भुगतान भी साथ ही किया जाए।

पहुंचे अधिकारी, बनी सहमति

चीनी मिल के सामने किसानों ने जबरदस्त धरना प्रदर्शन किया। तीन घंटे बाद एसडीएम नारायणगढ़ नीरज और चीनी मिल के यूनिट हेड वीके सिंह किसानों से बात करने पहुंचे। सहमति बनी कि किसानों का पिछला करोड़ों का बकाया 31 दिसंबर तक दे दिया जाएगा। वर्तमान सत्र में आने वाले गन्ने की पेमेंट 1 जनवरी 2022 से आरंभ हो जाएगी। चीनी मिल का शुभारंभ 23 नवंबर को होगा।

चीनी मिल बनौंदी के गेट पर दरी बिछाकर बैठे किसान।
चीनी मिल बनौंदी के गेट पर दरी बिछाकर बैठे किसान।

किसानों की चेतावनी

गन्ना संघर्ष समिति के प्रदेश सचिव बॉबी बधौली ने कहा कि अधिकारियों के आश्वासन के बाद किसानों ने मिल के सामने से धरना समाप्त कर दिया। उन्होंने चेतावनी दी कि आगामी 3 जनवरी तक मांग पूरी नहीं हुई तो घेराव होगा। प्रशासनिक और मिल अधिकारियों को बंधक बनाया जाएगा।