पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • The New Agency Hired 70 Percent Of The Staff Of The Agency Whose Contract Was Canceled On The Electricity Reading Disturbances.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भर्ती:बिजली रीडिंग गड़बड़ी पर जिस एजेंसी का ठेका रद्द हुआ, नई एजेंसी ने उसी के 70 फीसदी स्टाफ को काम पर रखा

अम्बालाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • उपभोक्ताओं को फिर गलत रीडिंग की आशंका, एसई बोले- काम में एक्यूरेसी न आने पर कार्रवाई करेंगे

उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम (यूएचबीवीएन) की नई मीटर रीडिंग एजेंसी कंपीटेंट प्राइवेट लिमिटेड अम्बाला में रीडिंग लेने का काम शुरू कर चुकी है। कंपनी ने मीटर रीडिंग के लिए 70 फीसदी स्टाफ वही रखा जो हटाई गई एनवाईजी एनर्जी सोल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड का था।

नई एजेंसी ने केवल 30 प्रतिशत स्टाफ ही नया रखा है। ऐसे में बिजली उपभोक्ताओं को फिर से फर्जी मीटर रीडिंग की आशंका है। एनवाईजी एजेंसी पर फर्जी मीटर रीडिंग लेने के आरोप लगे थे जिसके चलते एजेंसी का टेंडर कैंसिल हो चुका है। लेकिन नई एजेंसी ने भी अम्बाला में टेंडर लेने के बाद पुराना स्टाफ भर्ती कर लिया है जिन्हें बिजली निगम के एसडीओ ने ट्रेनिंग तक दे दी है।

यूएचबीवीएन के किसी भी अधिकारी ने इस पर कोई आपत्ति नहीं जताई है। जिले में यूएचबीवीएन की जिले में 10 सब डिवीजन हैं। अभी अधीक्षक या कार्यकारी अभियंता कार्यालय के अधिकारियों का कहना है कि अभी कंपनी ने स्थिति स्पष्ट नहीं की है कितने कर्मी सब डिवीजन में रखे हैं। बताया जा रहा है कि जिन सब डिवीजन में 20 हजार बिजली के उपभोक्ता हैं उन्हें करीब 5 मीटर रीडर दिए गए हैं।

रियल टाइम के बिना दिए जा रहे हैं बिल

जिले में बिजली निगम पुराने मीटर को बदल चुका है। सभी मीटर डिजिटल हैं। इसलिए इन मीटर से मोबाइल को अटैच करना है। इससे साॅफ्टवेयर के जरिए रीडिंग डाउनलोड होगी। इसका फायदा यह होगा कि बिजली उपभोक्ताओं को मौके पर ही बिल मिलेगा। अम्बाला कैंट में एजेंसी की ओर से आॅन द स्पॉट बिलिंग की टेस्टिंग हो चुकी है लेकिन सर्वर और नेटवर्किंग की दिक्कत के चलते रियल टाइम की समस्या सामने आई है। इसलिए फिलहाल बिजली उपभोक्ताओं को रियल टाइम के साथ बिल नहीं मिल पा रहे। नई एजेंसी ऑफलाइन बिल मुहैया करा रही है।

यूएचबीवीएन की बजाए नई कंपीटेंट एजेंसी ने खुद पुराना स्टाफ रखा है। हो सकता है कि गलत स्टाफ की बजाए अच्छे मीटर रीडर रखे गए हों। हमें तो काम में एक्यूरेसी चाहिए। यदि एक्यूरेसी नहीं आएगी तो मामले में कार्रवाई की जाएगी। यह टेंडर हेड क्वार्टर के स्तर पर दिया गया है। इसलिए हर माह रिपोर्ट के आधार हेड क्वार्टर को लिखा जाएगा।
आरके खन्ना, अधीक्षक अभियंता, यूएचबीवीएन अम्बाला।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें