पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गीतानंद महाराज पुण्यतिथि:वीरजी का निर्वाण दिवस 16 काे; सुबह सत्संग व हवन हाेगा, नहीं लगेगा भंडारा

अम्बाला5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रधान बाेले- काेराेना की वजह से बड़ा आयाेजन नहीं कर रहे, बच्चाें के कार्यक्रम भी नहीं हाेंगे

गीतानंद महाराज जिन्हें शहर के लोग वीरजी के नाम से मानते हैं। उनकी 17वीं पुण्यतिथि 16 जनवरी काे है। वैसे ताे हर साल इस दिन सुबह सत्संग व हवन के बाद भंडारा लगाया जाता है। शाम काे वीडियाे सत्संग सुनाया जाता है। इस दिन हजाराें भक्त यहां आकर सत्संग का आनंद लेते हैं।

प्रधान प्रभाशचंद्र दुआ ने बताया कि काेराेना की वजह से इस बार काेई बड़ा कार्यक्रम नहीं हाेगा। प्रतिदिन की भांति सुबह 4 से 5 बजे तक सत्संग और 9 से 11:30 बजे गीता के अध्यायाें से हवन किया जाएगा। बच्चाें के कार्यक्रम व भंडारे का आयाेजन नहीं हाेगा। साथ ही शाम काे सत्संग हाेगा। वीरजी की कुटिया में जुलाई में गुरु पूजा, 20 नवंबर काे गीतानंद का प्राकट्य दिवस, गीता जंयती व गीतानंद का निर्वाण दिवस पर कार्यक्रमाें का आयाेजन किया जाता है।

17 साल हाे गए हैं उनकी आवाज में चलता है सत्संग
वीरजी जिन्होंने पूरी जिंदगी गीता को जिया और प्रचार किया। वे नियम के इतने पक्के थे कि 50 साल तक रोजाना बिना नागा तड़के 4 से 5 बजे तक गीता का पाठ किया। उनके निर्वाण के 17 साल बाद भी अब भी उनकी आवाज में रिकॉर्ड कैसेट से पाठ चल रहा है। गाैरतलब है कि 16 जनवरी 2004 को वीरजी ने शरीर छोड़ा, यहां उनकी समाधि है। उनके कमरे को संग्रहालय में बदला गया है। जहां उनके बिस्तर, कपड़े, घड़ी, चश्मा, बर्तन, चप्पलें, हाथ से लिखे गीता के वाक्य रखे हैं।

डाॅ. मनाेचा के बाद प्रभाशचंद्र संभाल रहे ट्रस्ट का कार्यभार
वीरजी की कुटिया की देखरेख कार्यकारिणी ट्रस्ट श्री गीता सत्संग कर रहा है। पहले डाॅ. महेश मनाेचा प्रधान के पद पर कार्यरत थे, लेकिन उनके देहांत के बाद प्रधान प्रभाशचंद्र दुआ बने। इस ट्रस्ट में शाम सुंदर शर्मा, अशाेक गुप्ता, नरेंद्र जुनेजा, पवन शर्मा, गुरचरण सिंह देखरेख कर रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिस्थितियां अति अनुकूल है। कार्य आसानी से संपन्न होंगे। आपका अधिकतर ध्यान स्वयं के ऊपर केंद्रित रहेगा। अपने भावी लक्ष्यों के प्रति मेहनत तथा सुनियोजित ढंग से कार्य करने से काफी हद तक सफलत...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...

  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser